Aapka Rajasthan

Dholpur के वार्डों में नाले व नालियाें की सफाई ना होने की वजह से पूरी तरह गंदगी से भरी, लोग परेशान, शिवसेना कार्यकर्ताओं ने जताई नाराजगी

 

धौलपुर न्यूज़ डेस्क,कस्बे के कई वार्डों में नालों व नालों की सफाई नहीं होने के कारण वे पूरी तरह से गंदगी से अटे पड़े हैं. जिनकी नियमित सफाई नहीं हो रही है। नगर पालिका प्रशासन साफ-सफाई को लेकर कोई ध्यान नहीं दे रहा है, जिससे मच्छर बढ़ने लगे हैं। वहीं मौसमी बीमारियों के साथ डेंगू का खतरा भी बढ़ गया है। इससे सामान्य बारिश होने पर भी नालियां जाम हो जाती हैं। कई जगहों पर कचरे और पॉलीथिन से भरे इन नालों को पूरी तरह से बंद कर दिया गया है. जिससे लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। शिवसेना जिलाध्यक्ष छुट्टन सिंह ने कहा कि कई माह से नालों व नालियों की सफाई नहीं होने से मच्छर बढ़ने लगे हैं. जिससे डेंगू का खतरा भी बढ़ गया है। इसी तरह गायत्री कॉलोनी और जाटव बस्ती के बीच में गंदा पानी जमा है। इस गंदे पानी की निकासी नहीं होने के कारण यह ओवरफ्लो होकर सड़कों पर आ जाता है। लोगों को अपने घर जाते समय भी उस गंदे पानी को पार करना पड़ता है।

Rajasthan Breaking News: सीएम गहलोत की अध्यक्षता में कैबिनेट बैठक में कई अहम फैसले, विभिन्न सेवा नियमों में संशोधन को मिली मंजूरी

पहले नगर निगम प्रशासन इस गंदे पानी का जलस्तर बढ़ने पर टिल्लू पंप लगाकर नालों में पानी सप्लाई कर ओवरफ्लो वाटर की समस्या से निजात दिलाता था। लेकिन अब नगर पालिका कोई ध्यान नहीं दे रही है। लोगों ने कई बार नगर निगम प्रशासन को समस्या से अवगत कराया है। लेकिन नगर निगम प्रशासन इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है। जिससे लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। नालियां खुली होने के कारण आए दिन पशु नाले में गिर जाते हैं। डेंगू सहित मौसमी बीमारियों से बचाव के लिए एक ओर नगर निगम प्रशासन द्वारा कस्बे के सभी वार्डों व मुख्य बाजार में फॉगिंग कराई जा रही है, वहीं दूसरी ओर नगर निगम प्रशासन नियमित रूप से नालों व नालियों की सफाई नहीं करवा रहा है. जिससे कस्बे के निवासी खासे परेशान है। शिवसेना कार्यकर्ताओं ने कहा कि अगर जल्द ही नालों की सफाई नहीं हुई तो शिवसेना आंदोलन को मजबूर होगी.

Rajasthan Politics: सीएम गहलोत के बयान पर सचिन पायलट ने किया पलटवार, कहा-इस तरह की भाषा का इस्तेमाल करना उनकी परवरिश का हिस्सा नहीं