Aapka Rajasthan
Dholpur से डकैत रामगोपाल अपने साथियों के साथ मध्य प्रदेश की तरफ भागने लगा तो पुलिस टीम ने पीछा कर पकड़ा, पानी के बीच ही दबोचा
 

धौलपुर न्यूज़ डेस्क,धौलपुर में चंबल नदी के किनारे 20 नवंबर को डकैत रामगोपाल उर्फ ​​भोंटा गुर्जर और पुलिस के बीच हुई मुठभेड़ के बाद उसकी गिरफ्तारी का वीडियो सामने आया है. पुलिस से मुठभेड़ के बाद जब डकैत रामगोपाल अपने साथियों के साथ उस ओर भागने लगा मध्य प्रदेश पुलिस की टीम ने उनका पीछा किया। पुलिस को अपने पीछे देखकर डकैत रामगोपाल ने अपने कपड़े उतारे और नदी में कूद गया। इसी दौरान डीएसटी टीम के सिपाही अवनीश जादौन व हलके राम मीणा भी उसके पीछे नदी में कूद गए। इसके बाद इन आरक्षकों ने डकैत रामगोपाल को पकड़ लिया।

Rajasthan Breaking News: सीएम गहलोत की अध्यक्षता में कैबिनेट बैठक में कई अहम फैसले, विभिन्न सेवा नियमों में संशोधन को मिली मंजूरी

पुलिस को 20 नवंबर को चिल्लीपुरा गांव निवासी डकैत रामगोपाल की अपने गिरोह के साथ भोलापुरा गांव में चंबल के किनारे मौजूदगी की सूचना मिली थी. इस पर पुलिस टीम मौके के लिए रवाना हो गई।

जहां पुलिस ने घेराबंदी कर डकैत भोंटा व उसके चार साथियों रामराज, बलस्टर, कल्ला व बल्लू को चिह्नित कर लिया. इस दौरान जैसे ही डकैतों को सरेंडर करने के लिए कहा गया तो उन्होंने फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस ने जवाबी कार्रवाई की तो आरोपी वहां से फरार हो गए। इस दौरान पुलिस ने पीछा कर डकैत रामगोपाल को पकड़ लिया।

Rajasthan Politics: सीएम गहलोत के बयान पर सचिन पायलट ने किया पलटवार, कहा-इस तरह की भाषा का इस्तेमाल करना उनकी परवरिश का हिस्सा नहीं

पुलिस जब चिल्लीपुरा गांव से डकैत को लेकर थाने के लिए निकली तो डकैत के 4 साथियों ने 24 से अधिक लोगों के साथ टीम पर पथराव कर दिया. इस पथराव में तीन कांस्टेबल भी घायल हो गए। इसकी सूचना मिलने पर बसई डांग पुलिस मौके पर पहुंची और डकैत को सकुशल थाने लाया गया.