Aapka Rajasthan
Pali कोर्ट ने दो आरोपियों को हत्या का दोषी मानते हुए आजीवन कारावास की सुनाई सजा, रंजिश के चलते 7 साल पहले की थी हत्या
 

पाली न्यूज़ डेस्क,रंजिश के चलते 7 साल पहले कुछ लोगों ने एक युवक पर तलवार, रॉड और डंडे से हमला कर उसकी हत्या कर दी थी. सत्र न्यायाधीश पाली एमआर सुथार ने हत्या के दोनों आरोपियों को दोषी करार देते हुए मामले में आजीवन कारावास की सजा सुनाई।

Rajasthan Breaking News: जोधपुर एसीबी की बाडमेर में बड़ी कार्रवाई, बालोतरा नगर पालिका ईओं को 1 लाख रूपए की रिश्वत लेते किया गिरफ्तार

सत्र न्यायालय पाली के विशेष लोक अभियोजक डॉ. चंद्रभानु राजपुरोहित ने बताया कि पाली के औद्योगिक थाना क्षेत्र के प्रताप नगर निवासी सोहनलाल पुत्र पन्नालाल भट ने रिपोर्ट दी थी. उसने बताया कि छह जुलाई 2015 की रात करीब साढ़े नौ बजे वह एक मोबाइल की दुकान पर अपना मोबाइल रिचार्ज कराने गया था। सर्वर डाउन होने के कारण रिचार्ज नहीं हो सका। जब वह वापस घर जाने लगे तो तीन बाइक पर महेश, करण, रज्जाक सिंधी, मुकेश सिंधी, अब्दुल सिंधी, विजय उर्फ ​​जगदीश वाल्मीकि व दो तीन अन्य व्यक्ति आए. उसे देखकर वह जोर से चिल्लाया कि उसे जाते हुए पकड़ लो।

डर के मारे वह अपने परिचित जगदीश के घर में छिप गया और दरवाजा अंदर से बंद कर लिया। बंद दरवाजे पर आरोपी ने तलवार व डहरिया से वार किया जिससे जगदीश की भाभी के हाथ में चोट लग गई। वह घर में छिपा हुआ था, इसलिए उसका पता नहीं चल सका। इस पर आरोपी अपने घर चला गया। जहां उसने घर के बाहर बैठे अपने भाई महेंद्र भट पर तलवार, रॉड व लाठी-डंडों से हमला कर गंभीर रूप से घायल कर फरार हो गया. कुछ देर बाद घर से फोन आने पर उन्हें इस बात का पता चला। वह तुरंत बांगड़ अस्पताल पहुंचे जहां उनके भाई प्रताप नगर निवासी महेंद्र पुत्र पन्नाराम भट की इलाज के दौरान मौत हो गई।

रिपोर्ट में बताया गया कि घटना के करीब डेढ़ महीने पहले उसके भाई महेंद्र का रज्जाक और अब्दुल्ला से झगड़ा हुआ था. उसका बदला लेने के लिए, उन्होंने उसे मार डाला। पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

Rajasthan Breaking News: बीकानेर में मंदिर का पुजारी बना हैवान, 7 साल मासूम बच्ची का अपहरण कर किया दुष्कर्म का प्रयास

सत्र न्यायाधीश पाली एमआर सुथार ने 23 नवंबर 2022 को मामले की सुनवाई करते हुए पाली के औद्योगिक थाना क्षेत्र के न्यू शक्ति नगर पुलिस लाइन निवासी महेश पुत्र हंसराज वाल्मीकि व कन्हैयालाल उर्फ ​​करण पुत्र कालूराम मेघवाल को गिरफ्त में लिया. प्रताप नगर पाली निवासी महेंद्र भट की हत्या का दोषी। आजीवन कारावास व जुर्माने की सजा सुनाई।