Aapka Rajasthan
Nagaur बिरलोका में जीएसएस की मंजूरी के बावजूद प्रशासन जमीन का आवंटन नहीं कर सका
 

नागौर न्यूज़ डेस्क, नागौर राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक एवं सांसद हनुमान बेनीवाल ने उनकी मांग पर खींवसर विधानसभा क्षेत्र के बिरलोका में राज्य सरकार द्वारा स्वीकृत 220 केवी जीएसएस के निर्माण के लिए जिला प्रशासन द्वारा भूमि आवंटन नहीं किये जाने पर नाराजगी व्यक्त की. सांसद ने कलेक्टर को पत्र भेजकर जल्द से जल्द जमीन आवंटन की प्रक्रिया को पूरा करने को कहा ताकि सरकार की मंजूरी मिल सके. सांसद ने कहा कि एक तरफ राज्य सरकार दो प्रखंडों में किसानों को कृषि कार्य के लिए प्रतिदिन बिजली देने की बात कर रही है.

Nagaur रोडवेज की बसें बाईपास से बाहर आने पर तहसीलदार ने बसों के अंदर से आने पर लगाई रोक

जबकि खिनवसर क्षेत्र के किसानों को अब तक 4 प्रखंडों और 3 प्रखंडों में कृषि कार्य के लिए बिजली की आपूर्ति की जा रही है और लो वोल्टेज के कारण क्षेत्र के किसानों को बड़ी समस्या का सामना करना पड़ रहा है. गौरतलब है कि उक्त जीएसएस के संबंध में सीएमओ के निर्देश के बाद ऊर्जा विभाग के वरिष्ठ उप शासन सचिव ने 4 अगस्त 2022 को सांसद को पत्र लिखकर कहा था कि 17 जून को बिरलोका में 220 केवी जीएसएस की स्वीकृति भी मिल चुकी है। है। गांवों में निर्बाध बिजली आपूर्ति के लिए दर्जनों नए जीएसएस प्रस्ताव सक्षम स्तर पर स्वीकृति के लिए भेजे गए हैं.

Nagaur घरों में आ रहे गंदे पानी की समस्या को लेकर महिलाओं ने की कलेक्टर से बात