Aapka Rajasthan
Jalore उपखंड मुख्यालय में पटवारियों ने किया अनशन और धरना प्रदर्शन, मांग पूरी नहीं होने पर उग्र आंदोलन की दी चेतावनी
 

जालोर न्यूज़ डेस्क,राजस्थान पटवार संघ के राज्य स्तरीय आह्वान पर मंगलवार को सभी पटवारियों ने जालौर अनुमंडल मुख्यालय पर भूख हड़ताल व धरना दिया. इस मौके पर उन्होंने मांग पूरी नहीं होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी।

Rajasthan Breaking News: झालावाड़ में एसीबी की बड़ी कार्रवाई, रोजगार सहायक को 10 हजार रूपए की रिश्वत लेते किया गिरफ्तार

उपशाखा अध्यक्ष रमेश कुमार ने बताया कि राजस्थान पटवार संघ ने राजस्थान सरकार के साथ 3 जुलाई व 4 अक्टूबर 2021 को हुए पटवार संघ के समझौते की पालना न होने तथा निम्न पद के तबादले के विरोध में अपनी 7 सूत्री मांग की है. वेतनभोगी पटवारी। किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अगर सरकार ने पटवारियों की जायज मांगों को नहीं माना तो मजबूरी में उग्र आंदोलन किया जायेगा. जिसकी पूरी जिम्मेदारी सरकार की होगी।

Rajasthan Politics: गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के अध्यक्ष विजय बैंसला की मांग, सचिन पायलट का बनाया जाएं राजस्थान का सीएम

पटवारी संघ आंदोलन के दौरान हुए मुकदमों को वापस लेने की मांग कर रहा है. वहीं सवाई माधोपुर में संवर्ग पुनर्गठन, कोटा, आन्दोलन अवधि के लिए अवकाश उपार्जित कर नवीन पदों का सृजन, स्थानान्तरण नीति का निर्माण एवं दुर्भावना से प्रताड़ित कर दूर-दराज के जनपदों को कमजोर करने की मंशा से किया गया। संगठन। राजस्व कार्मिकों के स्थानान्तरण को निरस्त करने, नायब तहसीलदार के पद पर शत-प्रतिशत पदोन्नति एवं तहसीलदार के पद पर 50 प्रतिशत पदोन्नति भू-अभिलेख संवर्ग से पदोन्नति, समकक्ष संवर्गों के समान वेतनमान का निर्धारण, पटवारी ग्रेड वेतन 2800, पदोन्नति की समीक्षा वर्ष 2022-23 में वरिष्ठ पटवारी से भू-अभिलेख निरीक्षक से ग्रेड पे 3600 पर नायब तहसीलदार के पद पर नियमित पदोन्नति कर भूमि निरीक्षक, निरीक्षक के पद पर पदोन्नति की मांग।