Aapka Rajasthan
Rajasthan Breaking News: प्रदेश में पीएफआई संगठन के खिलाफ एनआईए की बड़ी कार्रवाई, 5 ठिकानों पर दबिश देकर दो लोगों को किया गिरफ्तार
 

जयपुर न्यूज डेस्क। राजस्थान की इस वक्त की बड़ी खबर में आपको बता दें कि प्रदेश में एक बार फिर एनआईए की बड़ी कार्रवाई देखने को मिली है।  राजस्थान के भी पांच शहरों में एक साथ रेड की गई है। बताया जा रहा है कि पीएफआई से ताल्लुक रखने वाले कई लोग भूमिगत हो गए हैं। एनआईए की टीम ने मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है. प्रदेश अध्यक्ष आसिफ और एसडीपीआई के सचिव सादिक को गिरफ्तार करने की सूचना है। आसिफ को केरल से और सादिक को कोटा से गिरफ्तार करने की सूचना मिल रही है। 

दिग्विजय सिंह ने सीएम गहलोत को उदयपुर संकल्प की दिलाई याद, कहा- कांग्रेस अध्यक्ष बनने पर छोड़नी पड़ेगी सीएम की कुर्सी

01

बता दे कि एनआईए ने आज पूरे देश में पीएफआई संगठन के अनेक कार्यालयों पर छापेमारी की कार्रवाई को अंजाम दिया है। देश में एक साथ 13 राज्यों पर ये रेड की गई है और इस रेड में अब तक सौ से भी ज्यादा संदिग्धों को हिरासत में लिया गया है। दिल्ली में पीएफआई के प्रमुख को भी हिरासत में लेने की सूचनाएं मिल रही हैं। इस संगठन पर आरोप है कि ये लोग बिना अनुमति के कैंप चलाते हैं और अन्य प्रतिबंधित गतिविधियों में शामिल होते हैं। इस रेड के बाद से हड़कंप मचा हुआ है। संदिग्धों को हिरासत में लेने के अलावा बड़ी मात्रा में प्रतिबंधित साहित्य भी मिलना बताया जा रहा है। राजस्थान के अलावा यूपी, केरल, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक, तमिलनाडु समेत 13 राज्य शामिल हैं। 

कांग्रेस के अध्यक्ष पद चुनाव से राजस्थान की राजनीति में मची हलचल, सीएम गहलोत के अध्यक्ष चुने जाने के बाद कौन होगा अगला मुख्यमंत्री ?

01

राजस्थान के पांच शहरों में भी एनआईए ने देर रात से आज सवेरे तक रेड की है। जयपुर में एमडी रोड स्थित पीएफआई के प्रदेश स्तरीय कार्यालय पर भी आज सवेरे एनआईए की टीम पहुंची है। जयपुर के अलावा कोटा, बारां, अजमेर और उदयुपर में भी रेड करने की सूचनाएं हैं। कोटा और बारां में तो देर रात रेड की गई है। बताया जा रहा है कि इस रेड में प्रतिबंधित साहित्य और अन्य सामान भी मिला है। ये भी सूचना है की इस रेड में ईडी के अफसर भी साथ हैं। सबसे बड़ी बात ये है कि रेड से लोकल पुलिस को दूर रखा गया है। सीआरपीएफ और अन्य सुरक्षा एजेंसियों के साथ ही ये रेड की जा रही है। जयपुर पुलिस को इस बारे में ज्यादा जानकारी नहीं दी गई है। 

01

आपको बता दे कि पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया या पीएफआई एक इस्लामिक संगठन है। ये संगठन अपने को पिछड़ों और अल्पसंख्यकों के हक में आवाज उठाने वाला बताता है। संगठन की स्थापना 2006 में नेशनल डेवलपमेंट फ्रंट के उत्तराधिकारी के रूप में हुई। संगठन की जड़े केरल के कालीकट में गहरी हैं। इसका मुख्यालय दिल्ली के शाहीन बाग में बताया जा रहा है। फिलहाल इसकी जड़ें भारत के 24 राज्यों तक फैल गई हैं।