Aapka Rajasthan
Dholpur में एनडीआरएफ की टीम ने आपदा से बचने के सिखाए गुर, तीर्थराज मचकुंड पर मॉक ड्रिल का हुआ आयोजन
 

धौलपुर न्यूज़ डेस्क,धौलपुर में बाढ़ आपदा के दौरान लोगों की मदद के लिए जिला पुलिस के साथ भीलवाड़ा से आई एनडीआरएफ की टीम ने आम लोगों को आपदा से बचने के गुर सिखाए. एनडीआरएफ ने तीर्थराज मचकुंड में मॉक ड्रिल कर बाढ़ आपदा के दौरान घरेलू उपकरणों की मदद से पानी में फंसे लोगों को निकालने के तरीके सिखाए।

Rajasthan Top Breaking News In 30 Seconds: टोंक के मालपुरा में भीषण सड़क हादसा, जानिए राजस्थान से जुडी हर छोटी-बड़ी खबर बस 30 सेकंड में

एसपी धर्मेंद्र सिंह सहित कलेक्टर अनिल अग्रवाल की उपस्थिति में तीर्थराज मचकुंड में आयोजित मॉक ड्रिल के दौरान पुलिस कर्मियों सहित एनडीआरएफ के जवानों ने स्थानीय लोगों को बाढ़ आपदा के समय लोगों की मदद करने का प्रशिक्षण दिया. मॉक ड्रिल के संबंध में कलेक्टर अनिल अग्रवाल ने बताया कि चंबल नदी में हर वर्ष बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो जाती है. जिससे दर्जनों पंचायतों में नदी का पानी गांव में घुस जाता है और लोग बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में फंस जाते हैं। ऐसे में आपदा के समय बाहर से टीमें बुलाकर लोगों की मदद की जाती है। कलेक्टर ने बताया कि एनडीआरएफ द्वारा विशेष कैंप लगाकर आपदा की घड़ी में लोगों की मदद के लिए सभी को तैयार किया जा रहा है. ताकि बाढ़ आपदा के दौरान बाहर से आने वाली टीम का इंतजार करने के बजाय समय पर लोगों की मदद की जा सके.

Rajasthan Politics: मेयर सौम्या गुर्जर पर लटकी बर्खास्तगी की तलवार, डीएलबी के नोटिस का कल करेंगी जवाब पेश