Aapka Rajasthan
Udaipur 150 करोड़ की संपत्ति पर टैक्स चोरी का मामला आया सामने: 10 किलो सोने के गहने और 1 करोड़ से ज्यादा कैश मिले
 

उदयपुर न्यूज डेस्क, आयकर विभाग की छापेमारी के तीसरे दिन भी उदयपुर में दो रियल एस्टेट कारोबारियों की तलाशी अभियान जारी है. एक्मे और अरिहंत प्रॉपर्टीज से जुड़े पार्टनर्स और करीबी कर्मचारियों से लगातार लंबी पूछताछ की जा रही है। दोनों समूहों की 150 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति पर कर चोरी का मामला सामने आया है. दोनों गुटों के पास से 10 किलो से अधिक मूल्य के सोने के आभूषण और एक करोड़ रुपये से अधिक की नकदी बरामद की गई है।

एक्मे और अरिहंत रियल एस्टेट ग्रुप के 37 ठिकानों पर जहां जांच चल रही है। आयकर विभाग की जांच में निर्मल जैन, रमेश जैन, अनिल चित्तौड़ा, अशोक जैन, भूपेंद्र जैन, अनिल जैन, पंकज जैन व बंशीलाल सुहलका समेत कुल 40 से अधिक लोगों से पूछताछ की जा रही है. यहां करोड़ों रुपए के अघोषित निवेश को लेकर जांच चल रही है। माना जा रहा है कि शुक्रवार शाम तक जांच पूरी हो सकती है।

बुधवार सुबह से चल रही कार्रवाई में मुंबई के साथ ही राजस्थान की कई बड़ी परियोजनाओं में निवेश से जुड़े दस्तावेज आयकर विभाग को सौंपे गए हैं. कालूलाल जैन और उसके साथियों ने 17 से ज्यादा अज्ञात लॉकरों का भी पर्दाफाश किया है।

दोनों गुटों के कारोबारियों द्वारा उदयपुर के रामी रॉयल रिजॉर्ट समेत एक दर्जन रिसॉर्ट में निवेश की बात भी सामने आई है। सॉफ्ट स्टोन के कारोबार में निवेश के साथ ही लोगों को मोटे ब्याज पर कर्ज देने की फाइलें भी मिली हैं. दस्तावेज सत्यापन के साथ ही जगह-जगह बड़ी संपत्तियों के दस्तावेज खंगाले जा रहे हैं। इसमें जयपुर के साथ ही राजस्थान के कई शहरों की इनकम टैक्स की टीमें शामिल हैं.