Aapka Rajasthan
Udaipur जिंदगी और मौत के बीच लड़ रहे 80 फीसदी झुलसे पुजारी: पुजारी की बॉडी मूवमेंट कम, ऑक्सीजन पर रखा
 

उदयपुर न्यूज डेस्क, राजसमंद में 20 नवंबर की रात पेट्रोल बम हमले में बुरी तरह झुलसे 75 वर्षीय पुजारी नवरत्न प्रजापत की हालत गंभीर बनी हुई है. फिलहाल वह उदयपुर के एमबी अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच जंग लड़ रहे हैं। सांस लेने में तकलीफ के कारण उन्हें ऑक्सीजन पर रखा गया था। गुरुवार शाम से उनके शरीर की हलचल काफी कम हो गई है। अब परिवार से भी बात नहीं हो पा रही है। हालत बिगड़ते देख दो दिन पहले उन्हें वार्ड से आईसीयू में शिफ्ट किया गया था। हालत में सुधार नहीं होने पर उनके परिजनों की चिंता बढ़ती जा रही है, हालत देख नहीं पा रहे हैं। वे डॉक्टर से उन्हें बचाने की गुहार लगा रहे हैं।

बता दें, 20 नवंबर को करीब 10 हमलावरों ने पुजारी और उनकी पत्नी को जिंदा जलाने के लिए पेट्रोल बम से हमला किया था. मामला राजसमंद के देवगढ़ का है। हमले में पुजारी नवरत्न प्रजापत का करीब 80 फीसदी शरीर झुलस गया। वहीं, उसकी पत्नी भी 35 फीसदी झुलस गई।

इधर, पुजारी की पत्नी की हालत में कोई सुधार नहीं है।
एमबी अस्पताल के बर्न वार्ड में भर्ती उनकी पत्नी जमनादेवी की हालत में कोई सुधार नहीं है। हमले में उसका दाहिना पैर, दोनों हाथ और चेहरा बुरी तरह जल गया। वह दो दिनों से ठीक से उठ-बैठ भी नहीं पा रही है। परिजनों के मुताबिक जमनादेवी की हालत बिगड़ती जा रही है.