Aapka Rajasthan

Tonk जमीन विवाद में छोटे ने बड़े भाई की जीप जलाई, राजस्वकर्मी जान बचाकर भागे

 

टोंक न्यूज़ डेस्क, टोंक लांबाहरिसिंह थाना क्षेत्र के गुलगांव में दो भाइयों में चल रहे जमीनी विवाद ने तूल पकड़ लिया। एसडीएम के आदेश पर गिरदावर, पटवारी यथा स्थिति बनाए रखने के लिए खेत पहुंचे तो छोटे भाई, उसके बेटों व अन्य साथियों ने मिलकर बड़े भाई व उसके सामलाती पर हमला कर दिया। गिरदावर व पटवारी डर के मारे जान बचाकर मौके से भाग छूटे। बड़े भाई की जीप को आग लगा दी। जिससे उसमें रखे राजस्व रिकॉर्ड जल गए। पीड़ित जोरावर सिंह व उसके सामलाती हंसराज बैरवा ने लांबाहरिसिंह थाना में जोरावर सिंह के छोटे भाई नरपत सिंह, बेटे दिग्विजय सिंह, भूपेंद्र सिंह करीब 10 अन्य लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। एक पीड़ित एससी-एसटी का होने के कारण मामले की जांच मालपुरा डीएसपी करेंगे। सप्ताह भर पहले भी दोनों पक्ष झगड़ गए थे। पुलिस ने 13 लोगों को गिरफ्तार किया था। थाना प्रभारी भागीरथ सिंह ने बताया कि जोरावर सिंह, उसके छोटे भाई नरपत सिंह के बीच करीब 50 बीघा जमीनी को लेकर विवाद चल रहा है। रिकॉर्ड में यह जमीन बड़े भाई जोरावर सिंह के नाम है। जोरावर सिंह अपनी मां के जिंदा रहते समय पुश्तैनी जमीन का अपने नाम वसीयतनामा करवाकर जमीन पर अपना कब्जा कर लिया।

जमीन विवाद को लेकर आए दिन छोटे भाई नरपत सिंह से झगड़ा होता रहता है तथा खेत पर फसल बोने से रोक रहा था। जोरावर सिंह ने एसडीएम के सामने सारे दस्तावेज पेश कर खेत पर फसल बोने के लिए प्रशासनिक सहयोग मांगा। एसडीएम ने तहसीलदार को उक्त मामले में यथा स्थिति बनाए रखने के आदेश जारी कर दिए। तहसीलदार सहदेव ने बताया कि इसकी पालना में गुरुवार दोपहर ढाई बजे गिरदावर, संबंधित पटवारी खेत पर गए थे। पुलिस जाब्ता भी साथ था। पुलिस दोनों पक्ष के लोगों को समझाकर आ गई थी। पीछे से 3 बजे दोनों पक्षों में झगड़ा हो गया। नरपत सिंह उसके बेटे दिग्विजय सिंह भूपेंद्र सिंह सहित 10 जनों ने खेत में नरपतसिंह व उसकी सामलाती खेती करने वाले सिंधोलिया निवासी हंसराज बैरवा के साथ मारपीट की। साथ ही जीप में आग लगा दी।