Aapka Rajasthan
ACB Action: टोंक जिले में एसीबी की बड़ी कार्रवाई, राजस्व अपील अधिकारी का रीडर 12 हजार रूपए की रिश्वत लेते ट्रैप
 

टोंक न्यूज डेस्क। राजस्थान के टोंक जिले में एसीबी की बड़ी कार्रवाई देखने को मिली है। टोंक में एसीबी की टीम ने घूसखोर सरकारी रीडर को रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है। आरोपी ने पैतृक संपत्ति के मामले में पक्ष में फैसला करवाने के लिए 15 हजार रुपए रिश्वत की मांग की थी। जिसे एसीबी ने ट्रैप कर गिरफ़्तार किया है। फिलहाल एसीबी की टीम आरोपी से पूछताछ कर रही है। 

प्रदेश में अब जाट प्रतिनिधि मुख्यमंत्री बनाए जाने की उठने लगी मांग, जाट महासभा के अध्यक्ष ने किया आलाकमान से अनुरोध

02

टोंक एसीबी के एडिशनल एसपी राजेश आर्य ने बताया कि पीड़ित ने शिकायत दर्ज कराई थी कि पैतृक संपत्ति के मामले में चंद्र लोक होटल के पास रहने वाला आरोपी रीडर लक्ष्मी नारायण उसके पक्ष में फैसला करवाने के लिए 15 हजार रुपए की रिश्वत की मांग कर रहा है। शिकायत का भौतिक सत्यापन करने के बाद टोंक एसीबी की टीम ने रीडर को रिश्वत लेते गिरफ्तार करने के लिए ट्रैप कार्रवाई की गई। 

राज्य सरकार के राइट टू हेल्थ बिल के विरोध में प्रदर्शन, निजी अस्पताल के डाॅक्टरों ने बताई इसमें खामी

01

एसीबी की टीम ने फरियादी को नोटों में केमिकल लगाकर आरोपी रीडर के पास भेजा। फरियादी आरोपी रीडर को रिश्वत के रुपए देकर उसके कार्यालय से बाहर निकला और एसीबी टीम की ओर इशारा कर दिया। जिसके बाद एसीबी की टीम ने उसे रिश्वत के रुपयों के साथ दबोच लिया और उसके कब्जे से रिश्वत के 12 हजार रुपये बरामद कर उसे गिरफ्तार कर लिया। एसीबी की टीम गिरफ्तार आरोपी के आवास और अन्य ठिकानों पर सर्च कर रही है।