Aapka Rajasthan
Sri Ganganagar के अनूपगढ़ राजकीय कॉलेज में धरने पर बैठे स्टूडेंट्स, 5 सूत्री मांगों को लेकर प्रिंसिपल को सौंपा ज्ञापन, जल्द समाधान नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी
 

श्रीगंगानगर न्यूज़ डेस्क, अनूपगढ़ के सेठ बिहारीलाल छाबड़ा राजकीय महाविद्यालय में छात्र विभिन्न मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गये। छात्र संघ अध्यक्ष योगेश भाम्भू के नेतृत्व में छात्रों ने 5 सूत्रीय मांगों को लेकर कॉलेज की प्राचार्य ज्योति को मुख्यमंत्री के समक्ष एक याचिका प्रस्तुत की।

छात्र संघ अध्यक्ष भाम्भू ने जानकारी देते हुए बताया कि सेठ बिहारी लाल छाबड़ा राजकीय महाविद्यालय में प्रोफेसर समेत कई पद रिक्त हैं। इन्हें जल्द से जल्द भरने की मांग के साथ मुख्यमंत्री को आवेदन पत्र भेजा गया है। कॉलेज विधानसभा क्षेत्र में एकमात्र सरकारी कॉलेज है, जो गरीब और जरूरतमंद छात्रों के लिए सस्ती शिक्षा का एकमात्र केंद्र है। लेकिन यहां के गरीब और जरूरतमंद छात्रों को सरकारी कॉलेजों में अव्यवस्था के कारण पढ़ाई छोड़ने को मजबूर होना पड़ रहा है।

कॉलेज के इतिहास और भूगोल के एक व्याख्याता ने कहा कि पुस्तकालय में पुस्तकों और खेल सामग्री की कमी से छात्रों की शिक्षा प्रभावित हो रही है। यद्यपि विधानसभा प्रदेश का एकमात्र महाविद्यालय है, यहाँ केवल कला संकाय कार्यरत है, जबकि अनूपगढ़ विधानसभा में वाणिज्य एवं कृषि संकाय के अनेक विद्यार्थी हैं। कॉलेज में कृषि व अन्य संकाय आ जाएं तो पढ़ाई करने वाले छात्रों के लिए कई संभावनाएं खुलेंगी।

जबकि कॉलेज की प्राचार्य ज्योति ने कहा कि छात्रों की मांग जायज है। उनकी मांग से विभाग के उच्चाधिकारियों को अवगत करा दिया गया है। जल्द ही उनकी समस्या का समाधान करने का प्रयास किया जाएगा।

अध्यक्ष ने कहा कि जल्द समाधान नहीं हुआ तो छात्र एकत्रित होकर उग्र आंदोलन करेंगे। इस दौरान रमनदीप कौर, दिनेश भंभू, मनीष सिआग, भवदीप जयनी, यश गर्ग, जगदेव सिंह, रोशन वर्मा, अजय सारस्वत, दीपांशु दुआ समेत बड़ी संख्या में छात्र मौजूद रहे।