Aapka Rajasthan
Rajsamand में टीचर की मांग को लेकर सतलेवा स्कूल के बाहर बच्चों व अभिभावकों ने किया प्रदर्शन, 3 महीने से कर रहे टीचर्स की मांग
 

राजसमंद न्यूज़ डेस्क,राजसमंद के सतलेवा स्कूल के छात्रों ने शिक्षकों की मांग को लेकर स्कूल का गेट बंद कर दिया. छात्रों ने गेट पर बैठकर नारेबाजी की। बच्चों को परफॉर्म करते देख अभिभावक भी स्कूल के बाहर पहुंच गए। शिक्षा विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

जिले के खमनौर प्रखंड के सिशोदा ग्राम पंचायत के सतलेवा गांव के माध्यमिक विद्यालय को सत्र 2021 में हायर सेकेंडरी में अपग्रेड किया गया. उसके बाद शुक्रवार को बच्चों ने स्कूल में शिक्षक बढ़ाने की मांग को लेकर प्रदर्शन किया.

ग्राम सतलेवा एवं विद्यालय समिति निवासी अर्जुन सिंह ने कहा कि विद्यालय का उन्नयन करना ग्रामीणों के लिए खुशी की बात है. प्रमोशन के समय स्कूल में 9 शिक्षकों का स्टाफ था। बाद में कहा गया कि यहां एक और स्टाफ भेजा जाएगा। जिसके बाद वर्तमान में 305 बच्चों के लिए केवल दो स्थायी शिक्षकों का स्टाफ है। एक शिक्षक अक्टूबर में सेवानिवृत्त होंगे और दूसरे शिक्षक पीटीआई हैं, जिन्हें बीएलओ का काम भी दिया गया है।

इसके अलावा विभाग ने यहां 4 शिक्षकों को भी प्रतिनियुक्ति पर रखा है। वह पूरे महीने पढ़ाता नहीं है। कुछ दिन पढ़ाने के बाद उन्हें कहीं और तैनात कर दिया जाता है। ऐसे में बच्चों की पढ़ाई चौपट हो रही है। इसकी शिकायत पिछले 3 माह से की जा रही है। लेकिन कोई ध्यान नहीं दे रहा था। आज बच्चों को गुस्सा आ गया। वह सुबह साढ़े सात बजे पहुंचे और स्कूल का गेट बंद कर दिया। बच्चों ने शिक्षकों को स्कूल में प्रवेश नहीं करने दिया।

बच्चों की एक ही मांग है कि यहां सभी विषयों के स्थायी शिक्षक लगाए जाएं ताकि पढ़ाई नियमित हो सके। स्कूल में लड़कियों से लड़कों का अनुपात अधिक है। बच्चों के प्रदर्शन के बाद खमनौर से शिक्षा विभाग के प्रतिनिधि नागेंद्र मेहता ने मौके पर पहुंचकर बच्चों को समझाया, लेकिन बच्चे शिक्षक होने की जिद पर अड़े रहे.