Aapka Rajasthan

Pratapgarh एसपी ने कहा- जीवन में सफलता के लिए जीत से ज्यादा जरूरी है हारना

 

प्रतापगढ़ न्यूज़ डेस्क, प्रतापगढ़ एपीसी कॉलेज में तीन दिवसीय अंतर महाविद्यालय वॉलीबॉल व बैडमिंटन प्रतियोगिता सोमवार से शुरू हो गई। प्राचार्य डॉ. संजय गिल ने बताया कि गोविन्द गुरु जनजातीय विश्वविद्यालय के तत्वावधान में पुलिस अधीक्षक अनिल बेनीवाल एवं जिला वन पदाधिकारी सुनील कुमार सिंह के मुख्य आतिथ्य में अंतर महाविद्यालय वॉलीबॉल पुरुष एवं बैडमिंटन महिला एवं पुरुष वर्ग का उद्घाटन किया गया. विशिष्ट अतिथि जिला खेल अधिकारी गिरधारी सिंह, मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी कैलाश चंद्र तेली, शासकीय महाविद्यालय के पूर्व प्राचार्य जीपी पाटीदार, विश्वविद्यालय पर्यवेक्षक डॉ. मन्नालाल मीणा थे. प्रगति संस्थान के निदेशक पिंकेश जैन ने अतिथियों का स्वागत किया और कॉलेज के उद्देश्यों और भविष्य की योजनाओं की जानकारी दी. मुख्य अतिथि ने जीवन में खेलों के महत्व को बताते हुए युवाओं से अपील की कि वे जीवन में किसी न किसी खेल से अवश्य जुड़ें क्योंकि खेलों से न केवल शारीरिक विकास होता है बल्कि राष्ट्र प्रेम की भावना भी विकसित होती है। जीवन में सफलता के लिए जीत से ज्यादा जरूरी हार है क्योंकि हार इंसान को जिंदगी जीना सिखाती है। कार्यक्रम अध्यक्ष ने युवाओं का आह्वान किया कि वे जीवन में निराश न हों बल्कि संघर्ष को अपना साथी मानकर सफलता प्राप्त करें।

वॉलीबॉल में पीएसपी परतापुर और जम्बूखंड महाविद्यालय कालिंजारा, बीआईएचएस बांसवाड़ा, आरएनटी अरथुना, लियो महाविद्यालय ने सोमवार को प्रतियोगिताओं में भाग लेने वाली 98 कॉलेज टीमों में जीत हासिल की। बैडमिंटन के प्रथम चरण में पुरुष वर्ग में विवेकानंद कॉलेज सागवाड़ा, मानस महाविद्यालय, विवेकानंद कॉलेज अंजना, महात्मा गांधी महाविद्यालय तथा महिला वर्ग में वागड़ कॉलेज, किड्स कॉलेज, अरावली कॉलेज ने पहले दिन के मैच जीतकर अपना स्थान पक्का किया. मैच में रेफरी की भूमिका महेश जडावत, सुरेंद्र सुमन, आजाद गौर, अंबालाल मीणा, राजू खान, महेंद्र सनाढ्य, नरेंद्र वैष्णव, हरीश बरोलिया, करूराम समोता, घनश्याम रावल, नरेश मेघवाल आदि निभा रहे हैं।