Aapka Rajasthan
Pratapgarh कृषि मंडी में आने लगी खरीफ की उपज, किसानों ने इस बार मक्का को दी प्राथमिकता
 

प्रतापगढ़ न्यूज़ डेस्क, प्रतापगढ़ की एकमात्र 'ए' श्रेणी की कृषि उपज मंडी में खरीफ उपज आने लगी है। जिले में पिछले वर्षों से सोयाबीन के उत्पादन में कमी के कारण अब किसान मक्का को प्राथमिकता देने लगे हैं। इस साल भी सोयाबीन का लक्ष्य कम किया गया है, जबकि मक्का का लक्ष्य बढ़ा दिया गया है. इसके तहत पिछले वर्षों में सोयाबीन का रकबा 1.50 लाख हेक्टेयर तक पहुंच गया था। जबकि मक्के का रकबा कम था। कंठल का वातावरण सभी फसलों के लिए उपयुक्त माना जाता है। ऐसे में पिछले डेढ़ दशक से सोयाबीन का रकबा लगातार बढ़ा है. जिससे शुरुआती वर्षों में यहां अच्छा उत्पादन भी होता था। लेकिन एक ही फसल की लगातार बुवाई के कारण कुछ वर्षों से सोयाबीन का उत्पादन कम होने लगा है। इसके चलते किसानों को लागत भी नहीं मिल पा रही है। वहीं कृषि विशेषज्ञों का कहना है कि खेतों में फसल चक्र अपनाना जरूरी है। जिससे खेत की गुणवत्ता बनी रहती है। इस कारण कृषि विभाग के साथ-साथ किसान भी सोयाबीन की जगह मक्का की बुआई पर जोर दे रहे हैं. विभाग ने इस साल 43 हजार हेक्टेयर में मक्का की बुआई की है. जबकि सोयाबीन का रकबा एक लाख 40 हजार हेक्टेयर कर दिया गया है। इसी तरह मूंगफली और उड़द का रकबा भी बढ़ाया गया है।

Pratapgarh नाकाबंदी तोड़ पुलिस से मारपीट कर फरार आरोपी को पुलिस ने दबोचा

जिले में पिछले डेढ़ दशक से भी अधिक समय से सोयाबीन की खेती लगातार बढ़ रही है। एक ही प्रकार की फसल की बुवाई, जहाँ मिट्टी में पोषक तत्वों की कमी हो। वहीं सोयाबीन के पोषण में भी कमी आने लगी है। जिससे सोयाबीन का उत्पादन भी कम हो रहा है। विभाग के सहायक निदेशक (सांख्यिकी) गोपालनाथ योगी ने कहा कि एक ही प्रकार की फसल को लगातार बोने से फसल में विशिष्ट पोषक तत्वों की कमी हो जाती है. जिससे न केवल उत्पादन प्रभावित हो रहा है बल्कि गुणवत्ता भी प्रभावित हो रही है। गौरतलब है कि खरीफ की फसल का 70 फीसदी रकबा सोयाबीन के अधीन है। कंथाल में पिछले डेढ़ दशक से अधिक समय से सोयाबीन की फसल बोई जा रही है। हर साल सोयाबीन की फसल बोने से कई पोषक तत्वों की कमी हो जाती है। सोयाबीन की फसल की लगातार बुवाई से जिंक, आयरन, नाइट्रोजन, फास्फोरस की कमी हो गई है। कई क्षेत्रों में पोटाश की भी कमी है।

Pratapgarh खेत में काम करते समय युवक को सांप ने काटा, मौत