Aapka Rajasthan
Pratapgarh में किसान ने एक बोरा खाद लिया, 30 का आया मैसेज, FIR दर्ज
 

प्रतापगढ़ न्यूज़ डेस्क, प्रतापगढ़ जिले में इन दिनों रबी की बुवाई चल रही है। बुवाई के बाद किसानों की मांग के अनुसार यूरिया खाद की जरूरत है लेकिन उन्हें पर्याप्त खाद नहीं मिल पा रहा है। कालाबाजारी भी हो रही है और कहीं किसानों को तय कीमत से अधिक दाम देकर ठगा जा रहा है। खाद की कमी को दूर करने के लिए प्रशासन ने पहले ही अधिकारियों की बैठक कर अलर्ट रहने के निर्देश दिए थे. इसके बावजूद कुछ अधिकृत डीलर किसानों से ठगी करने से बाज नहीं आ रहे हैं। ऐसा ही एक मामला जिला मुख्यालय पर सामने आया। सोहनपुर निवासी किसान सुरेंद्र सिंह ने बताया कि वह 23 नवंबर को कृषि मंडी स्थित फ्रेंड्स अधिकृत दुकान से खाद लेने के लिए लाइन में लगा था. आधार कार्ड के जरिए उसे खाद की बोरी दी गई। जब उनसे दो बैग की जरूरत के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि एक ही बैग दिया जाएगा। ऐसे में वह खाद का थैला लेकर घर पहुंच गया। शाम 7 बजकर 19 मिनट पर उनके मोबाइल पर मैसेज आया कि उन्होंने नीम कोटेड यूरिया की 30 बोरी ली है, जबकि असल में वह आधार कार्ड से सिर्फ एक बोरी यूरिया खाद लेकर आए थे. किसान सुरेंद्र सिंह ने बताया कि जब वह अधिकृत डीलर के पास अपने नाम से 30 बोरी यूरिया खाद उठाये जाने की शिकायत करने गया तो दुकान पर नहीं मिला.

दुकान पर बैठे कर्मचारी ने डीलर से फोन पर बात की तो डीलर ने उसे 1 घंटे वहीं बैठने को कहा। जब किसान सुरेंद्र सिंह ने डीलर से कहा कि वह एक ही बैग ले गया है और उसके मोबाइल पर 30 बैग खरीदने का मैसेज आया। इस पर अधिकृत डीलर नाराज हो गया और किसान के साथ गाली-गलौज करने लगा। जिले में इन दिनों किसान खाद की कमी और कालाबाजारी से काफी परेशान हैं। इस बीच अधिकृत डीलर भी फायदा उठाने में पीछे नहीं हैं। अगर कोई किसान पढ़ा-लिखा नहीं है तो वह मोबाइल में आए मैसेज को कंपनी का मैसेज समझकर डिलीट कर देता है। ऐसे में डीलर उनके नाम पर खाद डालकर अधिक कटिंग उठा लेते हैं और फिर कालाबाजारी करते हैं। किसान सुरेंद्र सिंह ने अधिकृत डीलर की शिकायत कृषि विभाग से की। जिस पर कृषि विभाग ने किसान की शिकायत दर्ज कर कार्रवाई की तैयारी कर ली है. कृषि उपसंचालक गोपाल नाथ योगी ने बताया कि जिले भर में कई डीलरों से यूरिया खाद में अनियमितता की शिकायत मिली है. हमने विभाग के जांच अधिकारी को पत्र लिखकर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। जिलाधिकारी से खाद की कालाबाजारी और दुकानदारों की अनियमितता की भी शिकायत मिल रही है। ऐसे दुकानदारों के खिलाफ जल्द सख्त कार्रवाई की जाएगी।