Aapka Rajasthan
Pali ACB कोर्ट में जालोर डिस्कॉम के एपीओ AEN और तकनीकी सहायक किया पेश, दोनों ने परिवादी को दिलवाई थी धमकी
 

पाली न्यूज़ डेस्क,जालौर डिस्कॉम के एपीओ एईएन और तकनीकी सहायक को मंगलवार को पाली एसीबी कोर्ट में पेश किया गया। दोनों को जेल भेजने का आदेश दिया गया है। शिकायतकर्ता ने एसीबी में बिजली टावर शिफ्ट करने के एवज में तीन लाख रुपये की रिश्वत मांगने की शिकायत दर्ज कराई थी। जिसके बाद आरोपी ने उसे आपराधिक प्रवृत्ति की धमकी दी थी। मामले में रविवार को एसीबी अजमेर ने दोनों को जालौर से गिरफ्तार किया था।

Jaipur में रोडवेज को डिपार्टमेंट बनाने की मांग हुई तेज, दीपावली बाद कर्मचारियों और अधिकारियों का संगठन करेगा बड़ा आंदोलन, 24 नवंबर को रहेगा चक्का जाम

एसीबी अजमेर के डीवाई एसपी पारसमल ने बताया कि जालौर निवासी रवि किशन पुत्र मगनाराम माली ने जून 2022 में एसीबी जयपुर में शिकायत दर्ज कराई थी. जिसमें बताया गया था कि टावर शिफ्ट करने के नाम पर जालोर डिस्कॉम के एईएन शत्रुघ्न शर्मा को है. तीन लाख रुपए रिश्वत की मांग मामले में एसीबी जयपुर की टीम तीन-चार बार जालौर पर कार्रवाई करने के लिए पहुंची, लेकिन कार्रवाई की जानकारी होने पर आरोपी ने शिकायतकर्ता को यह कहते हुए वापस कर दिया कि वह बाद में रिश्वत की राशि ले लेगा. लेकिन मामले को कमजोर करने के लिए आरोपी कुटिल प्रवृत्ति के लोगों से शिकायतकर्ता को धमकाता रहा। मामला दर्ज कर जांच अजमेर एसीबी की टीम को सौंपी गई है। रविवार को अजमेर एसीबी के डीवाई एसपी पारसमल के नेतृत्व में टीम जालौर पहुंची।

Jaipur वैशाली नगर लूट के आरोपी पुलिस गिरफ्त में, भरतपुर के सेवर थाने से मिला फीडबैक, राजधानी से एक टीम हुई रवाना

मामले में आरोपित एपीओ एईएन शत्रुघ्न पुत्र राम गोपाल शर्मा निवासी बापूनगर, जालोर एवं तकनीकी सहायक द्वितीय कांतिलाल पुत्र हनुमनाराम माली निवासी शास्त्री नगर जालौर उन्हें सौंपकर पाली ले आए. जहां कोर्ट के आदेश पर उसे एक दिन के रिमांड पर सौंप दिया गया. रिमांड पूरा होने पर दोनों को मंगलवार दोपहर पाली एसीबी कोर्ट में पेश किया गया. जहां से दोनों को कोर्ट की जेल भेज दिया गया.