Aapka Rajasthan
kota रामगंज मंडी में विद्युत निगम कार्यालय के सामने धरने पर बैठे कोटा स्टोन व्यापारी
 

कोटा न्यूज़ डेस्क,कोटा स्टोन लघु उद्योग के आह्वान पर कोटा जिले के रामगंज मंडी में बिजली निगम कार्यालय के सामने कोटा के पत्थर व्यापारी धरने पर बैठ गए, कोटा स्टोन एसोसिएशन के अध्यक्ष प्रह्लाद बैंसला ने मांग की है कि औद्योगिक क्षेत्र में लटके बिजली के तारों को बदला जाए. और व्यवस्था की। जाएं, ताकि कोटा पत्थर क्षेत्र में आने वाली बिजली की समस्या का समाधान हो सके।वहीं व्यापारियों ने विद्युत अभियंता को ज्ञापन सौंपकर एक माह में समस्या के समाधान का अल्टीमेटम दिया है। व्यापारियों ने डिस्कॉम को चेतावनी दी है कि अगर 1 माह के भीतर समाधान नहीं हुआ तो एक भी व्यापारी बिजली बिल नहीं भरेगा। साथ ही आक्रोश प्रदर्शन किया जाएगा। जिसमें कुछ नुकसान होगा तो डिस्कॉम ही जिम्मेदार होगा।

व्यापारियों ने डिस्कॉम के सहायक अभियंता संदीप कुमार को मौके पर बुलाया। अधिकारी से समस्या के समाधान की मांग भी की गई। जिसके बाद मौके पर ही व्यापारियों ने एससी को फोन कर लटकते तारों से हुए हादसों की जानकारी दी. इसे जल्द ठीक कराने की मांग की।गौरतलब है कि बुधवार को औद्योगिक क्षेत्र कुडायला स्थित एक ट्रक फैक्ट्री में जा रहा ट्रक बिजली के लटकते तारों से टकरा गया. इससे फैक्ट्री में बिजली के तार के पास करंट फैल गया। इससे बालिका अंजलि करंट की चपेट में आ गई। साथ ही फैक्ट्री के सभी मोटर व बिजली के उपकरण भी जल गए। जिसका झालावाड़ अस्पताल में इलाज चल रहा है. इस हादसे के बाद व्यापारियों ने रोष जताते हुए शहर के बिजली निगम कार्यालय के सामने धरना दिया.कोटा स्टोन एसोसिएशन के अध्यक्ष प्रह्लाद बैंसला, संरक्षक यतीश अग्रवाल, उपाध्यक्ष गोपाल गर्ग, दिनेश डापकरा, सचिव अखिलेश मेदतवाल, सचिव रमेश जैन, कोषाध्यक्ष लोकेश खंडेलवाल सहित बड़ी संख्या में कोटा स्टोन एसोसिएशन के अध्यक्ष प्रह्लाद बैंसला ने धरना प्रदर्शन किया. डिस्कॉम।