Aapka Rajasthan

kota में बहू के साथ बेरहमी से की गई थी मारपीट, समाज ने किया बहिष्कार

 

कोटा न्यूज़ डेस्क, कोटा के कुन्हाड़ी इलाके में एक महिला के साथ ससुराल में मारपीट करने के आरोप में आरोपी ससुराल वालों को केवट समाज से बहिष्कृत कर दिया गया है. कुन्हाड़ी के बलिता रोड निवासी हेमलता केवट के साथ उसके देवर, ननद, सास और ससुर ने बुधवार को बेरहमी से मारपीट की। इतना ही नहीं उनके बाल भी काटे गए थे। प्रेमलता की बेटियां उसे बचाने की गुहार लगाती रहीं लेकिन ससुराल वाले उसे बेरहमी से पीटते रहे। बाद में हेमलता के पति मौके पर पहुंचे और उन्हें एमबीएस अस्पताल ले जाया गया जहां अभी उनका इलाज चल रहा है.

मामला घर के विवाद से जुड़ा था जिसमें परिवार के बीच लंबे समय से रंजिश चल रही थी. बीते बुधवार सुबह हेमलता जब घर से दूध लेने के लिए निकली तो देवर समेत अन्य आरोपियों ने उसे पकड़ लिया और पीटना शुरू कर दिया. पुलिस ने मामले में मामला दर्ज कर सीसीटीवी के आधार पर कार्रवाई करते हुए मामले में छह लोगों को गिरफ्तार किया है। इधर मामले में अब समाज ने भी अपना फैसला सुना दिया है और कहा है कि मारपीट करने वाले आरोपियों को समाज से बेदखल कर दिया जाता है. 20 नवंबर को केवट समाज की बैठक हुई। उसमें यह फैसला समाज के सभी दलों के पंचों ने लिया। जिसमें यह स्पष्ट निर्णय लिया गया कि समाज का कोई भी व्यक्ति हमलावरों को अपने किसी कार्यक्रम में नहीं बुलाएगा और न ही समाज का कोई व्यक्ति उनके किसी कार्यक्रम में जाएगा।इस संबंध में केवट आरक्षण समिति के उमाशंकर कहार ने कहा कि समाज के सभी पदाधिकारियों ने समाज के लोगों से चर्चा कर निर्णय लिया है कि समाज में ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति नहीं होनी चाहिए. बहू के साथ मारपीट करने वाले परिवार का बहिष्कार किया गया है।