Aapka Rajasthan

jodhpur बुजुर्गों की सेवा का ‘अनुबंध’, 20 साल से जुटे दंपती, क्लिनिक भी बनाए

 

जोधपुर न्यूज़ डेस्क, निंबा-निंबाड़ी स्थित शहर के सबसे बड़े वृद्धाश्रम 'अनुबंध' वृद्धाश्रम 25 नवंबर को 20 साल पूरे कर लेगा। इसकी स्थापना एक फर्नीचर व्यवसायी नरेंद्र आडवाणी ने अपनी पत्नी अनुराधा के साथ की थी। तब से 'अनुबंध' हजारों बेसहारा वृद्धों का सहारा बन गया। यहां आज भी 100 से अधिक वृद्ध लोग रह रहे हैं, जिनमें विकलांगों और नेत्रहीनों के साथ लकवा से पीड़ित लोग भी शामिल हैं।जिनकी सेवा में 18 कार्यकर्ताओं की टीम दिन रात लगी हुई है। जो बुजुर्ग अपना काम नहीं कर पाते उन्हें नहलाना, तैयार करना और खाना खिलाना, दवा देना और हाथ-पैर दबाना जैसे काम ये टीम करती है. अगर किसी बुजुर्ग की कुटिया में रहने के दौरान मौत हो जाती है तो नरेंद्र आडवाणी अपने हाथों से उनका अंतिम संस्कार पूरे विधि-विधान से करते हैं.निदेशक अनुराधा आडवाणी ने बताया कि 55 से 95 वर्ष के बुजुर्गों के लिए हमने कॉटेज में ही दो क्लीनिक भी खोले हैं. इलाज के लिए डॉक्टरों और कंपाउंडर की टीम भी है। एक क्लीनिक झोपड़ी के बुजुर्गों के लिए है और दूसरा आम लोगों के लिए, जहां मुफ्त इलाज होता है।

आज से 2 दिवसीय उत्सव
कुटिया का दो दिवसीय स्थापना महोत्सव गुरुवार से शुरू होगा। पहले दिन इलाहाबाद उच्च न्यायालय के पूर्व मुख्य न्यायाधीश गोविंद माथुर, राजस्थान मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष न्यायमूर्ति गोपाल कृष्ण व्यास, हास्य कवि पद्मश्री सुरेंद्र शर्मा, कवि दिनेश बावरा और रोहित शर्मा अतिथि होंगे। डॉ. राम अकेले में कविताएँ सुन कर हँसते थे। गायक मोहम्मद वकील भी प्रस्तुति देंगे। शुक्रवार को सुंदरकांड का पाठ होगा।