Aapka Rajasthan

jaipur राजस्थान उदयपुर में रेलवे ब्रिज पर ब्लास्ट मामले में चार और आरोपित गिरफ्तार

 

जयपुर न्यूज़ डेस्क, एटीएस ने गुरुवार को उदयपुर-अहमदाबाद ब्रॉडगेज रेलवे लाइन पर ओडा पुल विस्फोट मामले में चार और लोगों को गिरफ्तार किया है। ये वे लोग हैं जो अवैध तरीके से मैगजीन और विस्फोटक बेचते थे।इनसे अंकुश और उसका पिता बिहारी लाल सुहलका सरकार द्वारा तय रेट से तीन गुना दाम पर विस्फोटक खरीदते थे और कई गुना कीमत पर रेलवे ब्रिज पर ब्लास्ट करने वाले मुख्य आरोपी को कई गुना कीमत पर विस्फोटक मुहैया कराते थे. एटीएस ने इस मामले में अब तक आठ लोगों को गिरफ्तार किया है।

बिना लाइसेंस के विस्फोटक खरीदे जा रहे थे
मिली जानकारी के अनुसार एटीएस ने गुरुवार को प्रतापनगर निवासी पिता लोकेश और उसके बेटे अमित के साथ सेक्टर चार निवासी भरतराज सेन व मल्लातलाई निवासी अशोक मीणा को गिरफ्तार किया था. ये सभी उदयपुर के रहने वाले हैं।ये लोग रेलवे ट्रैक ब्लास्ट मामले के मुख्य आरोपी धुलचंद को विस्फोटक मुहैया कराने वाले अंकुश और उसके पिता बिहारलाल को विस्फोटक बेचते थे. पता चला है कि बिहारीलाल सुहलका और उसका बेटा अंकुश पिछले 7-8 सालों से बिना लाइसेंस के चारों आरोपियों से मैगजीन और विस्फोटक खरीद रहे थे.

धमाका 12 नवंबर को हुआ था
गौरतलब है कि धुलचंद ने 12 नवंबर को अपने रिश्तेदार प्रकाश व एक नाबालिग के साथ उदयपुर-अहमदाबाद रेल लाइन पर बने ओडा रेलवे पुल को उड़ा दिया था.