Aapka Rajasthan
Jaipur में कांग्रेस अध्यक्ष पद को लेकर खाचरियावास ने दिया ये बड़ा बयान, बोले- कांग्रेस अध्यक्ष बने तो भी CM गहलोत रहेंगे, चौधरी ने कहा- कई अध्यक्ष CM रहे
 

जयपुर न्यूज़ डेस्क, देर रात सीएमआर में हुई कांग्रेस विधायक बैठक में सीएम अशोक गहलोत ने पार्टी के विधायकों से साफ कहा- मैं ज्यादा दूर नहीं हूं। उन्होंने विधायकों को राजस्थान के सीएम के रूप में अपना पद नहीं छोड़ने के संकेत दिए हैं। उन्होंने यह भी कहा कि वह राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए फिर से मनाने की कोशिश करेंगे। अगर वे नहीं माने तो मैं राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए नामांकन भर दूंगा, तब आपको तकलीफ दूंगा।। विधायकों ने कहा- आपको भी ऐसा ही करना चाहिए।

विधायक की बैठक की जानकारी देते हुए मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने विधानसभा के बाहर कहा- अशोक गहलोत सीएम और राष्ट्रीय अध्यक्ष दोनों पद संभालेंगे। गहलोत अभी भी सीएम हैं, वे अभी तक राष्ट्रीय अध्यक्ष नहीं बने हैं। हो सके तो ये सारी स्थितियां बन जाएंगी। सब कुछ तय होने दो। अब तक यह तय है कि अगर वह राष्ट्रीय अध्यक्ष बन भी जाते हैं तो सीएम अशोक गहलोत बने रहेंगे। यही बातचीत विधानसभा पार्टी की बैठक में भी हुई। हर कोई चाहता है कि अशोक गहलोत मुख्यमंत्री बने रहें।
वे कई राजनीतिक दलों के मुख्यमंत्री भी रहे

सरकार के उप मुख्य सचेतक महेंद्र चौधरी ने कहा- इस तरह की स्थिति केंद्र में कई बार हो चुकी है। कई राजनीतिक दलों के अध्यक्ष भी मुख्यमंत्री रह चुके हैं। अरविंद केजरीवाल आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी हैं। वह दिल्ली के सीएम भी हैं। मायावती बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष भी थीं और उत्तर प्रदेश में सीएम पद पर रहीं। यूपी में ही सीएम रह चुके अखिलेश यादव-मुलायम सिंह परिवार ने भी सपा में अध्यक्ष का पद संभाला। ऐसा कई राजनीतिक दलों में हुआ है। अपनी खुद की पार्टी पर विचार करें।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस और बीजेपी पर बोलने वाले उपनेता राजेंद्र राठौर को अपनी पार्टी के बारे में सोचना चाहिए। कांग्रेस देश की सबसे पुरानी पार्टी है, जो भी फैसला करेगी वह अपने स्तर पर लेगी। चौधरी ने कहा- जब भी मुख्यमंत्री की ओर से कोई आदेश होता है। विधायक उनकी हर आज्ञा का पालन करेंगे, जो वे पहले भी कर चुके हैं। जहां वे कहते हैं कि हमें वहां रहना है, हम वहां तैयार रहेंगे। अगर मुख्यमंत्री का आदेश दिल्ली का है तो वह भी दिल्ली पहुंचेगा।

महेंद्र चौधरी ने कहा- विधायक दल की बैठक में मुख्यमंत्री ने सभी विधायकों के सामने एक बार फिर दोहराया है कि पार्टी का जो भी आदेश होगा, मैं उसे मानूंगा। गहलोत राहुल गांधी से दोबारा मिलने की पूरी कोशिश करेंगे ताकि उन्हें अध्यक्ष पद के लिए राजी किया जा सके। पार्टी कोई आदेश देती है तो भी अशोक गहलोत ने विधायक बैठक में दोहराया है कि मैं पार्टी के हर आदेश का पालन करने के लिए तैयार हूं।

CM ने दोहराया सरकार रिपीट करनी है, सभी कांग्रेस विधायक वापस जीतें

महेंद्र चौधरी ने कहा- राज्य का बजट फरवरी में आता है, लेकिन यह जल्द आ सकता है। इसे तैयार किया जा रहा है। इसकी तैयारी विभागीय स्तर पर भी की जा रही है। मुख्यमंत्री ने विधायकों से यह भी कहा है कि वे इलाके में किसी भी जरूरी काम के लिए मांग सकते हैं. गहलोत एक से एक विधायकों से भी बात करेंगे. रात में विधायक दल की बैठक में मुख्यमंत्री ने सरकार दोहराने की बात दोहराई है. विजयी होकर लौटना है। सत्ता विरोधी लहर सरकार की नहीं होती। सीएम जहां भी जा रहे हैं वहां भारी भीड़ उमड़ रही है, भीड़ बढ़ रही है. मुख्यमंत्री की सोच है कि सभी विधायक जीतकर लौट जाएं. विधायकों के हित में जो भी करने की जरूरत होगी, मुख्यमंत्री विधायकों से खुलकर चर्चा करेंगे.
राठौड़ ने कहा- गहलोत की हमेशा दो तरफ से काम करने की आदत

विपक्ष के उपनेता राजेंद्र राठौड़ ने कहा- मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की हमेशा से दोनों तरफ काम करने की आदत रही है. पहले वे राजस्थान की जनता की चिंता किए बिना अपनी सरकार बचाने में लगे रहे। अब इतनी बड़ी जिम्मेदारी के बाद वह ये तीनों काम (सीएम, गृह मंत्री, कांग्रेस अध्यक्ष) एक साथ करेंगे। मुझे यह असंभव लगता है। मैं कोई राजनेता नहीं हूं और न ही कांग्रेस का पंडित हूं। मैं विद्वान नहीं हूं। लेकिन मैंने आपको वही बताया है जो मुझे लगता है।

राठौर ने कहा- गहलोत ने जब सरकार छोड़ी तो काफी पहले कांग्रेस आलाकमान अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच एक समझौता (समझौता) हुआ था। अब इसे लागू करने का समय आ गया है। अब कांग्रेस की अंदरूनी राजनीति साफ हो गई है. मैंने आज तक किसी बड़ी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष को दो-दो पद धारण करते नहीं देखा, इसलिए दूसरा पद खाली होने की संभावना है।

पार्टी अध्यक्ष रहते CM रहे नेता

लालू प्रसाद यादव राजद अध्यक्ष के रूप में बिहार के मुख्यमंत्री रह चुके हैं। नीतीश कुमार जदयू अध्यक्ष और मुख्यमंत्री, टीआरएस अध्यक्ष के. चंद्रशेखर राव (केसीआर) और तेलंगाना के मुख्यमंत्री, वाईएसआर कांग्रेस के अध्यक्ष जगनमोहन रेड्डी आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री, तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ममता बनर्जी पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री, पीडीपी अध्यक्ष और मुख्यमंत्री डॉ। महबूबा मुफ्ती जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री रह चुकी हैं। आम आदमी पार्टी के अध्यक्ष अरविंद केजरीवाल दिल्ली के मुख्यमंत्री थे, बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री थीं, सपा अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव और उनके बेटे अखिलेश यादव भी यूपी के मुख्यमंत्री रह चुके हैं।