Aapka Rajasthan

jaipur कांग्रेस नेता की अगवा की गई 21 साल की बेटी का 40 घंटे बाद भी नहीं लगा कोई सुराग

 

जयपुर न्यूज़ डेस्क, राजस्थान घुमंतू जाति बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष रहे कांग्रेस नेता गोपाल केसावत की 21 वर्षीय बेटी अभिलाषा केसावत का अपहरण हुए करीब 40 घंटे बीत चुके हैं, लेकिन अब तक पुलिस के हाथ खाली हैं. इस दौरान पुलिस ने घटनास्थल और आसपास लगे 400 से ज्यादा सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली, लेकिन अभिलाषा कहीं नजर नहीं आ रही हैं। इस मामले की जांच के लिए प्रतापनगर थाने के साथ सीएसटी और डीएसटी की टीम भी लगी हुई है. लेकिन अभी तक अभिलाषा के बारे में कोई सुराग नहीं मिल पाया है।

राजधानी जयपुर में दिनदहाड़े अपहरण की इस घटना के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है. इस मामले में जांच को आगे बढ़ाते हुए पुलिस ने गोपाल केसावत द्वारा दी गई जानकारी के बाद कुछ संदिग्ध लोगों को थाने बुलाकर उनसे पूछताछ की है. लेकिन उनके पास से भी पुलिस को कोई सुराग नहीं लग सका है। पुलिस का दावा है कि अपहरण के बाद शाम को अभिलाषा के मोबाइल की लोकेशन ट्रेस की गई, लेकिन उसके बाद पता नहीं चल सका। पुलिस मौके पर पहुंची जहां उसके मोबाइल की लोकेशन ट्रेस की गई, लेकिन अभिलाषा का पता नहीं चला।

केसावत के परिवार का रो रो कर बुरा हाल है
उधर, बेटी के अपहरण के 40 घंटे से अधिक समय बीत जाने के बाद भी केसावत के परिवार का उसका कोई पता नहीं चलने से रो-रोकर बुरा हाल है. केसावत ने आशंका जताई कि ड्रग्स के खिलाफ उनका राजनीतिक अभियान कुछ लोगों को नाराज भी कर सकता है। बेटी के अपहरण के पीछे यह भी कारण हो सकता है। केसावत पिछली गहलोत सरकार में राजस्थान खानाबदोश जाति बोर्ड के अध्यक्ष थे। उस समय उन्हें राज्य मंत्री का दर्जा प्राप्त था। इस मामले को लेकर केसावत ने पुलिस कमिश्नर और अपर पुलिस कमिश्नर से भी मुलाकात की है.