Aapka Rajasthan
Churu बस में बिना टिकट यात्रा करने वाले कंडक्टरों पर यात्रियों के सामने कार्रवाई की जाएगी
 

चूरू न्यूज़ डेस्क, चूरू रोडवेज में निरीक्षण प्रक्रिया को और मजबूत किया जाएगा। यात्रियों के सामने बिना टिकट यात्रा करने वाले संचालक के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इससे निरीक्षण प्रक्रिया में और पारदर्शिता आएगी। जब भी किसी रोडवेज बस की चेकिंग की जाती है तो कई बार परिचालक द्वारा यात्रियों को टिकट नहीं देने का मामला सामने आता है। इस पर कार्रवाई के दौरान संचालक को निरीक्षण दल के वाहन के पास बुलाया जाता है, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। उड़नदस्ते की कार्यप्रणाली में सुधार लाने के लिए राज्य के सभी डिपो के मुख्य प्रबंधकों को निर्देशित किया गया है कि वे अपने स्वयं के गोदाम क्षेत्र में निरीक्षण सहित राजस्व को नुकसान पहुंचाने वाले संचालकों के वाहनों का विशेष निरीक्षण करें. इसके तहत निरीक्षण टीम जैसे ही किसी रोडवेज बस की जांच करेगी, यात्रियों के सामने कार्रवाई भी की जाएगी। यदि रोडवेज बस में बिना टिकट यात्री मिलता है तो यात्री को चालक व परिचालक से मिलवाया जाएगा और नियमानुसार राशि वसूल की जाएगी।

इस नई व्यवस्था से निगम का राजस्व बढ़ेगा। निगम की निरीक्षण प्रक्रिया में पारदर्शिता आएगी। चूरू के कार्यवाहक डिपो प्रबंधक चंद प्रकाश शर्मा ने बताया कि हाल ही में हुई बैठक में भी यह निर्देश दिए गए हैं। निगम के आला अधिकारियों का मानना ​​है कि इस प्रक्रिया से बसों का संचालन, यात्रियों की सुरक्षा और राजस्व में वृद्धि होगी. इस संबंध में प्रबंध निदेशक ने आदेश जारी कर सभी डिपो के मुख्य प्रबंधकों व यातायात प्रबंधकों को सख्त निर्देश दिए हैं. मुख्य मार्गों के अलावा डिपो प्रबंधक डिपो के अन्य आंतरिक मार्गों पर चलने वाले वाहनों का भी निरीक्षण करेंगे. अपने डिपो के वाहनों के साथ अन्य डिपो के वाहनों व लंबी दूरी के वाहनों की भी जांच की जाएगी। कई बार बसों के निरीक्षण के दौरान चालक-परिचालक उड़नदस्ते से बदसलूकी करते हैं, ऐसे कर्मियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।