Aapka Rajasthan
Bundi शारदीय नवरात्रि: वक्फ संपत्तियों पर रहने वालों पर होगी कार्रवाई
 

बूंदी न्यूज़ डेस्क, बूंदी शारदीय नवरात्रि 26 सितंबर से शुरू हो रहे हैं. नवरात्रि के नौ दिनों में इस बार अमृत सिद्धि योग, सर्वार्थ सिद्धि योग और रवि योग के साथ कई महत्वपूर्ण योग भी बन रहे हैं. जिसका प्रभाव बहुत ही शुभ रहेगा। खास बात यह है कि इस बार मां गज (हाथी) पर सवार होकर आ रही है। टेरेकार्ड रीडर-ज्योतिषी सोमा माहेश्वरी ने बताया कि 26 सितंबर को सर्वार्थ सिद्धि योग और अमृत योग बन रहा है. इसके बाद 30 सितंबर और 2 अक्टूबर को सर्वार्थ सिद्धि योग होगा। नवरात्रि के चौथे, छठे और आठवें दिन रवि योग बन रहा है. इस बार मां दुर्गा हाथी पर सवार होकर आ रही हैं। धार्मिक दृष्टि से हाथी को ज्ञान का प्रतीक माना जाता है। भक्तों के जीवन में सुख-समृद्धि में वृद्धि होती है। सोमा माहेश्वरी के अनुसार स्थापना का शुभ मुहूर्त प्रातः 6.11 से 7.51 बजे तक रहेगा. इसके अलावा अभिजीत मुहूर्त में इस दिन 12.06 से 12.54 तक घटस्थापना या कलश स्थापना भी की जा सकती है.

Bundi कोटा-दौसा हाईवे पर पेड़ों की अवैध कटाई के दौरान वन विभाग ने जब्त की 3 ट्रैक्टर-ट्रॉलियां

इनकी खरीदारी मानी जाती है 30 सितंबर और 2 अक्टूबर को सर्वार्थ सिद्धि योग पूरे दिन रहेगा। इस दिन बर्तन, इलेक्ट्रॉनिक्स सामान, दुपहिया, चौपहिया, सोने-चांदी के आभूषण जरूर खरीदने चाहिए। इसके बाद दूसरा योग 1 अक्टूबर को होगा। इस दिन रवि योग होता है, यह किसी भी कार्य को पूरा करने के लिए सर्वश्रेष्ठ माना जाता है। इस योग में सोना, चांदी, पीतल जैसी धातुओं की खरीदारी करना शुभ माना जाता है। शनिवार का दिन होने के कारण दुपहिया और चौपहिया वाहन, मशीनरी, इलेक्ट्रॉनिक उत्पाद आदि खरीदना चाहिए।

Bundi परकोटे में छोटी गलियां होने के कारण विकास कार्य हो रहा बाधित