Aapka Rajasthan
Bikaner में इंदिरा गांधी नहर में कटाव, पूगल ब्रांच के पास नहर टूटने से खेत जलमग्न हुए, पानी आबादी एरिया तक पहुंचा
 

बीकानेर न्यूज़ डेस्क, इंदिरा गांधी नहर की पूगल ब्रांच बुधवार दोपहर अचानक टूट गई। इसके बाद नहर का पानी आसपास के खेतों में रिस गया, जिससे बड़ी संख्या में खेत जलमग्न हो गए। फसल बर्बादी के कगार पर है। नहर टूटने के दो घंटे बाद भी नहर विभाग के अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचे। हालांकि अब फिर से नहर बनाने का काम शुरू कर दिया गया है।

आरडी 153 के पास पुगल शाखा नहर टूट गई। नहर सैकड़ों फीट तक उखड़ गई, जिससे नहर के बाहर किसानों के खेतों तक पानी पहुंच गया। तेज बहाव के कारण फसलों को भी नुकसान पहुंचा है। आसपास के कई खेत पूरी तरह जलमग्न हो गए। जिससे फसलों को भारी नुकसान होने की आशंका है। नहर कॉलोनी में भी पानी पहुंच रहा है। जिससे लोगों के घरों तक पानी पहुंच सके। सियासर के सरपंच खलील खान पडिहार मौके पर पहुंच गए हैं। इसके बाद एसडीएम श्योराम व तहसीलदार डॉ. गिरधारी अब मौके पर पहुंच गया है और नहर के पुनर्निर्माण का काम शुरू कर दिया है. नहर के और कटाव को रोकने के लिए मिट्टी से भरे कुंड लगाकर पानी के बहाव को रोका जा रहा है. नहर में बीस फीट का प्रारंभिक कटाव बढ़कर सौ फीट से अधिक हो गया।

अधिकारी हुए लापरवाह

नहर टूटने की शिकायत के दो घंटे बाद भी नहर विभाग का कोई अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा। कार्यपालक अभियंता ओमप्रकाश को सूचित किया गया लेकिन उन्होंने कोई कार्रवाई नहीं की। इसके बाद खेत में खड़ी ग्वार की फसल पानी में डूब गई। जब एक एसएसएम बेल्ट टूटा तो पानी आबादी वाले इलाकों में पहुंच गया। इसके बाद भी प्रशासनिक व नहर के अधिकारी नहीं पहुंचे। बाद में स्थानीय लोगों ने पुलिस को सूचना दी, जिन्होंने अधिकारियों को बुलाकर मौके पर बुलाया।