Aapka Rajasthan
Bikaner बीकानेर कलेक्टर-मंत्री विवाद में बढ़ा अधिकारियों का गुस्सा आरएएस व तहसीलदारों के साथ बैठक का बहिष्कार करेंगे अधिकारी
 

बीकानेर न्यूज डेस्क,  बीकानेर में पंचायत राज मंत्री रमेशचंद मीणा और जिलाधिकारी भगवती प्रसाद कलाल के बीच हुए विवाद के बाद अधिकारियों में रोष बढ़ता जा रहा है. गुरुवार को आरएएस, तहसीलदारों के साथ ही कई अधिकारियों ने सरकारी बैठकों में हिस्सा नहीं लेने की चेतावनी दी. कई संगठनों ने अपर संभागीय आयुक्त को ज्ञापन सौंपा है। इस विवाद में अब तक दर्जनों कर्मचारी व अधिकारी संगठनों ने अपना विरोध दर्ज कराया है.

आरएएस अधिकारियों और तहसीलदार संगठनों ने बैठकों के बाद फैसला किया कि वे अब सरकारी बैठकों में हिस्सा नहीं लेंगे. हालांकि ये अधिकारी अपने कार्यालयों में नियमित रूप से काम करेंगे ताकि आम जनता को किसी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े. अधिकारियों की मांग है कि मंत्री सार्वजनिक रूप से माफी मांगे। इन संगठनों के पदाधिकारियों ने गुरुवार को अपर संभागीय आयुक्त के पास पहुंचकर उन्हें ज्ञापन सौंपा। इस दौरान अधिकारियों ने मंत्री के व्यवहार पर नाराजगी जताते हुए मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा।

अब तक बड़ी संख्या में कर्मचारी संगठनों ने इस संबंध में मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा है. उधर, आईएएस एसोसिएशन ने भी जयपुर में विरोध दर्ज कराया। मुख्य सचिव को भी अल्टीमेटम दिया लेकिन इस पूरे मामले में मंत्री मीणा की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है.