Aapka Rajasthan
Bharatpur मंत्री के काफिले को रोकने वाले 12 लोगों के पुश्तैनी मकान पर अब कब्जा हो गया है
 

भरतपुर न्यूज डेस्क,  गांव नांदेरा में मुख्य मार्ग पर जलभराव की समस्या के चलते रविवार को राज्य मंत्री जाहिदा खान के काफिले को रोकना महिलाओं पर अब बोझ बनता जा रहा है. पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों ने 15-15 फीट तक अतिक्रमण मानकर मुख्य सड़क के दोनों ओर पानी निकासी के लिए निशान लगा दिए। पीडब्ल्यूडी ने सभी अतिक्रमणकारियों को 5 दिन के भीतर खुद अतिक्रमण हटाने को कहा है।

नहीं तो बुलडोजर चलाकर अतिक्रमण हटाया जाएगा। नुकसान/खर्च की जिम्मेदारी संबंधित लोगों की होगी। ग्रामीणों ने इसे बदले की कार्रवाई बताया है। ग्रामीण शमशेर खान ने बताया कि पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों ने सरूपा खान, शरीफ, आजाद, जहुल खान, सलीम, फकरू, अमीन, सद्दाम, शब्बीर, अजरू, जुबेर, मुस्ताक के पुश्तैनी मकानों पर लाल निशान लगाकर कब्जाधारी घोषित कर दिया है. जबकि सरपंच मिसलू खान सहित मंत्री जाहिदा खान के अपनों के घर सूने पड़े हैं। मंगलवार को पीडब्ल्यूडी के कार्यपालन यंत्री दुलीचंद मीणा ने गांव पहुंचकर नापजोख और अतिक्रमण चिन्हित करने के निर्देश दिए. मीणा ने बताया कि सड़क की पैमाइश कर जलभराव के स्थायी समाधान के लिए एस्टीमेट तैयार किया जा रहा है.

इस तरह विरोध करना गलत: जाहिदा खान
शिक्षा राज्य मंत्री जाहिदा खान ने कहा है कि नाराजगी जताने वालों के खिलाफ कार्रवाई की बात बिल्कुल गलत है. गांव नांदेरा के रास्ते में गंदे पानी की समस्या हो गई। सड़क निर्माण और जल निकासी की समस्या के समाधान के लिए पीडब्ल्यूडी को निर्देश दिए गए हैं।