Aapka Rajasthan
Bharatpur में बारिश से लोगो को राहत, बंगाल की खाड़ी में दबाव से जिलेभर में बारिश, बयाना में सर्वाधिक 21 एमएम
 

भरतपुर न्यूज़ डेस्क, बंगाल की खाड़ी में बने सिस्टम के चलते बुधवार को भी पूरे जिले में बारिश हुई है। बयाना में सबसे अधिक 21 मिमी बारिश दर्ज की गई। बुधवार की सुबह से ही दोपहर में बादल छाए रहने से गर्मी से राहत मिली। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि मॉनसून की टर्फ लाइन दक्षिणी उत्तर प्रदेश की ओर बढ़ रही है। यह टर्फ लाइन चंबल नदी के पास से गुजरती है। इसका असर अगले दो दिनों तक बारिश के रूप में देखने को मिलेगा। मौसम विशेषज्ञ आरके सिंह के मुताबिक मानसून के जाने के बीच बंगाल की खाड़ी में बने निम्न दबाव के सिस्टम के प्रभाव से राजस्थान में भारी बारिश संभव हो गई है।

इस संबंध में मौसम विभाग ने अलर्ट घोषित कर दिया है। राज्य के दक्षिण-पूर्वी हिस्से में भरतपुर, कोटा और जयपुर संभाग के 10 से अधिक जिलों में बारिश हो सकती है। बुधवार को कुम्हेर में 5 मिमी, डिग 2, सीकरी 2, कमान 9, बयाना 21, वैर 17, भुसावर 7, रूपवास 10, उचैन 10 और भरतपुर 5 मिमी प्राप्त हुए। बारिश से वातावरण में नमी बढ़ गई है। जिससे दिन के तापमान में 2.1 डिग्री की गिरावट आई है। अधिकतम तापमान 27.2 डिग्री दर्ज किया गया जबकि रात का तापमान एक डिग्री गिरकर 24.3 डिग्री पर आ गया।

भरतपुर संभाग के सभी जिलों में बरसात के दिन
मौसम विज्ञान केंद्र जयपुर के अनुसार 22 और 23 सितंबर को भरतपुर, धौलपुर, करौली, टोंक, सवाई माधोपुर, कोटा, बूंदी, भीलवाड़ा, झालावाड़, जयपुर, दौसा और बारां जिलों में बारिश होगी, जबकि 23 सितंबर को बारिश होगी। इन जिलों को छोड़कर अन्य इलाकों में बारिश अजमेर, नागौर, राजसमंद, चित्तौड़गढ़, प्रतापगढ़ जिलों में भी हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।