Aapka Rajasthan

Alwar वेतन प्रबंधक से मेल नहीं खा रहे आईएफएमएस के पद, 3000 से अधिक कर्मचारियों का वेतन रोका

 

अलवर न्यूज डेस्क, एकीकृत वित्तीय प्रबंधन प्रणाली (आईएफएमएस) के पे मैनेजर में दर्ज पदों का मिलान नहीं होने के कारण चिकित्सा विभाग के कर्मचारियों का वेतन रोक दिया गया है। तीन हजार से ज्यादा डॉक्टरों और कर्मचारियों को अभी तक अक्टूबर माह का वेतन नहीं मिला है और नवंबर का वेतन भी खतरे में है.

हालत यह है कि वेतन पर कर्ज लेने वाले कर्मचारियों के लिए हर महीने बैंकों की किश्त जमा करने की समस्या बढ़ गई है. जिन कर्मचारियों के वेतन बिल 16 नवंबर तक कोषागार में पहुंचे, उनका वेतन बनवाया गया। लेकिन ये बिल ज्यादातर जिला मुख्यालय पर कार्यरत कर्मचारियों तक ही पहुंचे हैं.

यूटीबी के नर्सिंग कर्मियों को 9 माह से वेतन नहीं मिला

चिकित्सा विभाग में खाली पड़े पदों पर अर्जेंट टेंपरेरी बेसिस यानी यूटीबी पर कार्यरत कर्मचारियों के सामने वेतन व अनुभव प्रमाण पत्र का संकट खड़ा हो गया है. नर्सिंग ऑफिसर की भर्ती के लिए आवेदन की आखिरी तारीख 24 दिसंबर है और इसके लिए उन्हें अनुभव प्रमाण पत्र चाहिए, लेकिन जब तक वेतन नहीं मिलेगा तब तक अनुभव प्रमाण पत्र भी नहीं मिलेगा.

जितने महीने वेतन मिलेगा, उसका अनुभव प्रमाण पत्र भी बनाया जाएगा। सर्टिफिकेट के लिए सैलरी स्लिप या रिकॉर्ड जरूरी है और इन कर्मचारियों को मार्च 2022 से 9 महीने से सैलरी नहीं मिली है. इसलिए सैलरी का कोई रिकॉर्ड उपलब्ध नहीं है.