Aapka Rajasthan
Ajmer में 3 दिन से लापता प्रॉपर्टी डीलर की लाश मिली, ख़ुदकुशी या ह्त्या, पुलिस कर रही जांच
 

अजमेर न्यूज़ डेस्क, अजमेर में होम लोन नहीं चुकाने पर एक व्यक्ति ने की आत्महत्या मृतक प्रॉपर्टी डीलर था और उसका शव बुधवार को झील से बरामद हुआ। दो दिन पहले उसके बेटे ने घंटाघर थाने में गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई थी। प्रथम दृष्टया यह आत्महत्या का मामला प्रतीत हो रहा है। हालांकि घंटाघर थाना पुलिस मामले की जांच कर रही है।

बुधवार को अजमेर के तालाब में एक वृद्ध का शव मिला। सूचना मिलते ही आसपास के लोग जमा हो गए और घंटाघर थाने को सूचना दी। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और सिविल डिफेंस को मौके पर बुलाया गया। जिसके बाद नागरिक सुरक्षा और गोताखोरों ने शव को झील से बाहर निकाला। उसकी पहचान आशा गंज निवासी सुरेश रवानी (50) पुत्र हेमंत दास के साथ हुई।

2 दिन से लापता था

मृतक सुरेश के भाई सोनू ने बताया कि 2 दिन पहले उसका भाई सुरेश संपत्ति के काम से जयपुर जाने के लिए घर से निकला था। शाम तक नहीं लौटने पर उसके मोबाइल फोन पर संपर्क नहीं हो सका। बाद में सुरेश के बेटे जितेंद्र ने घंटाघर थाने में गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई।
कार झील के पास मिली, फिर हुई जांच

मृतक के भाई ने बताया कि मंगलवार को पता चला कि मृतक सुरेश ने डिग्गी बाजार में अपने दोस्त की दुकान के पास अपनी कार खड़ी की थी। बुधवार को जब कार झील के पास खड़ी की गई तो भाई सोनू ने गोताखोरों की मदद से झील की तलाशी ली तो वहां सुरेश की लाश मिली, जिसके बाद हंगामा हो गया। बाद में पहुंची पुलिस ने सिविल डिफेंस की मदद से शव को बाहर निकाला और शिनाख्त के बाद जेएलएन अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिया। जहां परिजनों की शिकायत के बाद पुलिस शव परिजनों को सौंप देगी।
कर्ज से परेशान था

मृतक सुरेश के भाई सोनू ने बताया कि सुरेश प्रापर्टी डीलिंग का काम करता था। उसने अपने घर के लिए कर्ज लिया था और कर्ज में भी था। जिसके चलते वह काफी समय से डिप्रेशन में चल रहे थे। पहले सीन में उन्होंने डिप्रेशन में आकर आत्महत्या कर ली थी। घंटाघर थाने के एएसआई धर्मपाल गुर्जर ने बताया कि इस मामले में मृतक के बेटे ने 19 तारीख को थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई थी. जिसका शव आज झील से बरामद किया गया है. शव को पोस्टमॉर्टम के लिए मोर्चरी में रखवाया गया। जहां पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सौंप दिया जाएगा। इसी मामले में हर पहलू की जांच की जा रही है।