Aapka Rajasthan

Udaipur GBH अमेरिकन हॉस्पिटल में युवक की मौत के बाद हंगामा, लापरवाही का आरोप

 
Udaipur GBH अमेरिकन हॉस्पिटल में युवक की मौत के बाद हंगामा, लापरवाही का आरोप 

उदयपुर न्यूज़ डेस्क, उदयपुर के पंचवटी स्थित जीबीएच अमेरिकन हॉस्पिटल में इलाज के दौरान एक युवक की मौत हो गई। जिसके बाद परिजनों ने डॉक्टराें पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा किया। परिजनों और हॉस्पिटल स्टाफ के बीच जमकर बहस हुई। हंगामा बढ़ने पर हाथीपोल थाना पुलिस मौके पर पहुंची और मामले को शांत कराने की कोशिश की। घटना सोमवार देर शाम की है। हाथीपोल थानाधिकारी लीलाधर ने बताया कि हॉस्पिटल में इलाज के दौरान अक्षय पालीवाल (29) की मौत हुई है। परिजनों ने मामले की रिपोर्ट दी है जिसमें डॉक्टरों पर इलाज में लापरवाही के आरोप लगाए गए हैं। मामले की जांच की जा रही है। साथ ही शव का पोस्टमॉर्टम कराकर परिजनों को सौंपा जाएगा। इधर, हॉस्पिटल प्रशासन ने इलाज में किसी भी तरह की लापरवाही होने से इनकार किया है।

मृतक का भाई बोला- खुद चलकर आया था अक्षय, लापरवाही से गई जान मृतक के भाई चिराग पालीवाल का कहना है कि अक्षय को घबराहट होने हॉस्पिटल में दिखाने लाए थे। अक्षय खुद अपने पैरों पर चलकर आया था। जिसे इमरजेंसी में लेकर गए लेकिन वहां उसे देखने वाला कोई नहीं था। अक्षय को ज्यादा परेशानी होने लगी तो हमने डॉक्टर को कहा कि भाई की तबीयत ज्यादा बिगड़ती जा रही है, जल्दी इलाज करो। तो वे बोले-डॉक्टर हम हैं, हमें मत सिखाओ। फिर भाई को पहले जनरल वार्ड में भर्ती किया, उसके कुछ देर बार आईसीयू में लेकर गए। एक घंटे तक ऐसे ही भटकते रहे। आखिरकार भाई ने दम तोड़ दिया।

आरएनटी के अस्पतालों में ठेका कर्मचारियों का कार्य बहिष्कार

12 सूत्रीय मांगों को लेकर आरएनटी मेडिकल कॉलेज के अधीन संचालित 5 अस्पतालों में सेवारत ठेका कर्मचारियों ने सोमवार को दो घंटे का कार्य बहिष्कार किया। राष्ट्रीय ठेका मजदूर संघ (भामस) के अध्यक्ष दिनेश गुस्सर और दैनिक वेतन ठेका मजदूर संघ (इंटक) अध्यक्ष राजेश चौहान व महामंत्री अशोक कल्याणा के सामूहिक नेतृत्व में ठेका कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोला। एमबी हॉस्पिटल अधीक्षक कार्यालय के पॉर्च में जुटे कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी के साथ प्रदर्शन भी किया। हालांकि, तय समय बाद सभी कर्मचारी ड्यूटी पर लौट गए। पहले दिन इस प्रदर्शन में करीब 300 कर्मचारियों की मौजूदगी रही। फिलहाल इस प्रदर्शन में जनाना चिकित्सालय का स्टाफ शामिल नहीं हुआ। कल तक उनकी ओर से भी प्रदर्शन में शामिल होने की आशंका है। कार्ययोजना के तहत अगले 8 दिन तक ये कर्मचारी इसी तरह कार्य बहिष्कार पर रहेंगे।