Aapka Rajasthan
Udaipur में कार्यवाहक तहसीलदार ने किया खाद-बीज दुकानों का निरीक्षण, ली दुकानदारों की सूद
 

उदयपुर न्यूज़ डेस्क, एसडीएम के निर्देश पर कस्टोडियन तहसीलदार कैलाश प्रसाद मीणा व कुलदीप कुमार ने खाद बीज की दुकानों का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने अनुमंडल की तीन लाइसेंसी दुकानों के निरीक्षण के दौरान एजेंसी धारकों के स्टॉक रजिस्टर व खाद बीज की जानकारी लेकर उनसे बातचीत की। दुकानदारों का कहना है कि दोसा जिले के डीलर खाने-पीने की चीजों के काफी ऊंचे दाम बता रहे हैं। इसलिए हम माल नहीं खरीद पा रहे हैं, किसान 1350 रुपये में डीएपी खाद मांग रहे हैं तो इस दर पर कहां दे सकते हैं।

इसलिए हमें माल मुश्किल से ही मिलता है। उल्लेखनीय है कि इस क्षेत्र में उर्वरकों की कालाबाजारी के कारण पूर्व में भी कई शिकायतें मिली हैं, लेकिन किसानों को उचित मूल्य पर खाद नहीं मिल रही है. दौसा के वितरकों को उच्च स्तर पर सूचित करें. जिले के पास एजेंसी धारकों के समान अधिकार नहीं है और वे अपने विवेक के कारण व्यक्तिगत हित के लिए और अधिक राशि लेने के लिए अन्य एजेंसी धारकों को माल नहीं भेज सकते हैं। जब उनके पास सारे दस्तावेज होते हैं, तो वे अक्सर यह कहते हुए देरी कर देते हैं कि इस बार उन्हें आपूर्ति भेज दी जाएगी। दौसा जिले में वितरकों की मनमानी लंबे समय से चल रही है और एजेंसी धारक को मोटी रकम देकर माल की आपूर्ति की जाती है।