Aapka Rajasthan
Sawaimadhopur में चारागाह व सरकारी जमीन पर कब्जा, गायों को दफनाने की जगह नहीं
 

सवाई माधोपुर न्यूज़ डेस्क, सवाई माधोपुर चौथ का बरवाड़ा गांव में सरकारी जमीन पर अतिक्रमण व लोगों के कब्जे से सरपंच परेशान है. गायों में गांठ रोग फैलने के कारण बड़ी संख्या में इनकी मृत्यु हो रही है। प्रशासन द्वारा ग्राम पंचायतों को दफनाने का आदेश दिया जा रहा है, लेकिन गांव में कोई चारागाह या सरकारी जमीन नहीं होने के कारण स्थिति गंभीर हो गई है. किसी के खेत या अन्य स्थान पर गायों को दफनाने को लेकर भी विवाद की स्थिति बनी हुई है। ऐसे में सरपंच संघ ने कहा है कि गायों का अंतिम संस्कार तहसीलदार और विकास अधिकारी के सामने इस समस्या का समाधान कर ही किया जाए. सरपंच संघ के अध्यक्ष विमल कुमार मीणा के नेतृत्व में सभी पंचायतों के सरपंचों ने तहसीलदार और विकास अधिकारी के सामने यह दर्द बयां किया.

Sawaimadhopur जबरन चोरी के मामले में शामिल होकर 2.70 लाख रु. की अवैध वसूली, केस दर्ज

सरपंच संघ के अध्यक्ष विमल कुमार मीणा ने कहा कि सरकारी रिकॉर्ड में चारागाह और सरकारी जमीन पर्याप्त मात्रा में दर्ज है. लेकिन मौके पर स्थिति अलग है। इस समय सरकार की ओर से बीमारी के चलते गायों को दफनाने के आदेश दिए जा रहे हैं. सरपंच संघ का कहना है कि जब उनके पास कोई खाली सरकारी जमीन नहीं है तो वे गायों को कहां दफनाएं। चौथ का बरवाड़ा की सभी 23 ग्राम पंचायतों में यह समस्या व्याप्त है. चौथ के बड़वारा सरपंच सीता सैनी ने कहा कि प्रशासन पहले सरकारी जमीन पर से अतिक्रमण हटाकर पंचायतों की सुध ले. इसके बाद ही गायों के अंतिम संस्कार की व्यवस्था की जाएगी। वहीं कई जगह गायों को खुले में फेंकने की मजबूरी है।

Sawaimadhopur 55 करोड़ से बनेगा भाड़ौती से दतवास तक स्टेट हाईवे, राहगीरों को मिलेगी राहत