Aapka Rajasthan

Jalore में दबंगों दवार पंचायत समिति सदस्य के घर जाने वाला आम रास्ता बंद करने का मामला, 1 जुलाई को प्रशासन ने खुलवाया था

 

जालोर न्यूज़ डेस्क,जालौर जिले के जशवंतपुरा के खांडादेवल गांव में पंचायत समिति सदस्य कनुदेवी पुरोहित के घर की ओर जाने वाले आम रास्ते को बंद करने का मामला सामने आया है. जिससे कनुदेवी की बुजुर्ग सास को अस्पताल से घर लाने के दौरान एंबुलेंस फंस गई। जिससे परिजनों को वृद्ध को कंटीले तार के नीचे से घर ले जाना पड़ा.

Rajasthan Top Breaking News In 30 Seconds: टोंक के मालपुरा में भीषण सड़क हादसा, जानिए राजस्थान से जुडी हर छोटी-बड़ी खबर बस 30 सेकंड में

कनुदेवी के पति ने बताया कि रास्ता बंद होने के कारण बच्चे स्कूल भी नहीं जा पाते थे. एक जुलाई को प्रशासन ने रास्ता खोल दिया था, लेकिन भामराराम पुरोहित समेत कई लोगों ने वापसी का रास्ता बंद कर दिया. कनुदेवी के पति दरगाराम ने बताया कि हमारे घर की ओर जाने वाली आम सड़क को कुछ लोगों ने डेढ़ महीने से जाम कर रखा है. रास्ते में कंटीले तार बांध दिए गए हैं। जिससे घर पहुंचने में दिक्कत हो रही है। वहीं दरगाराम की मां करीब 20 दिन पहले बीमार पड़ गई थी। जिसे भीनमाल अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उस समय भी उन्हें तारों के नीचे ले जाया गया था। घर वापस लाने के दौरान रास्ते में एंबुलेंस फंस गई। जिससे परिजन पलंग के सहारे कंटीले तार के नीचे से वृद्ध को घर ले आए. उन्होंने कहा कि प्रशासन ने रास्ता खुलवा दिया था, लेकिन भामराराम समेत कई लोगों ने मिलकर वापस जाने का रास्ता बंद कर दिया. रास्ता बंद होने से बच्चों को स्कूल जाने में भी परेशानी का सामना करना पड़ता है।

Rajasthan Politics: मेयर सौम्या गुर्जर पर लटकी बर्खास्तगी की तलवार, डीएलबी के नोटिस का कल करेंगी जवाब पेश

जसवंतपुरा एसडीएम राजेंद्र चुंडावत ने बताया कि परिजनों ने मामला दर्ज कराया है। उसके बाद 1 जुलाई 2022 को रास्ता खोल दिया गया। उसके बाद कनुदेवी के पति दरगाराम ने कहा था कि हमारा आपसी विवाद है, हम इसे सुलझा लेंगे। प्रशासन ने हस्तक्षेप नहीं किया, लेकिन दरगाराम की मां के बीमार होने की सूचना मिली और सड़क बंद कर दी गई। तो मैंने तहसीलदार को बता दिया है। टीम मौके पर गई है, रास्ता खुलवाया जाएगा।