Aapka Rajasthan

Hanumangarh पॉक्सो न्यायालय ने नाबालिग से छेड़छाड़ पर सुनाई पांच साल कारावास की सजा

 
Hanumangarh पॉक्सो न्यायालय ने नाबालिग से छेड़छाड़ पर सुनाई पांच साल कारावास की सजा 

हनुमानगढ़ न्यूज़ डेस्क,पॉक्सो न्यायालय के विशिष्ट न्यायाधीश ने गुरुवार को नाबालिग से रेप के प्रयास और छेड़छाड़ के दोषी को 5 साल के कारावास की सजा सुनाई। सा​थ ही 26 हजार 500 रुपए का जुर्माना भी लगाया। जुर्माना अदा न करने पर अतिरिक्त कारावास भुगतने के आदेश दिए। राज्य की ओर से पैरवी विशिष्ट लोक अभियोजक विनोद डूडी ने की।

प्रकरण के अनुसार 9 मार्च 2021 को नाबालिग ने पीलीबंगा पुलिस थाना में एफआईआर दर्ज करवाई कि वह 3 मार्च 2021 को कपड़े धोकर ताऊ के घर से अपने घर जा रही थी। रास्ते में आरोपी उसके मुंह पर हाथ लगाकर जबरदस्ती उसे सूने मकान में ले गया और छेड़छाड़ की। फर्श पर गिराकर उसके साथ रेप करने की कोशिश की। जब वह चिल्लाई तो चीख-पुकार सुनकर पड़ोसी आ गए।

पुलिस ने अनुसंधान के बाद न्यायालय में चालान पेश किया। कोर्ट में मामले की सुनवाई के दौरान अभियोजन पक्ष ने नौ गवाह पेश किए तथा नौ दस्तावेज प्रदर्शित करवाए। सुनवाई के बाद कोर्ट ने आरोपी को दोषी करार देते हुए सजा सुनाई। उसे आईपीसी की धारा 363 में 3 साल कारावास, 5 हजार रुपए जुर्माना, अदम अदायगी एक माह के अतिरिक्त कारावास, आईपीसी की धारा 366 में 5 साल कारावास, 10 हजार रुपए जुर्माना, अदम अदायगी दो माह के अतिरिक्त कारावास, आईपीसी की धारा 341 में 1 माह कारावास, 500 रुपए जुर्माना, अदम अदायगी सात दिन के अतिरिक्त कारावास, आईपीसी की धारा 342 में 6 माह कारावास, 1000 रुपए जुर्माना, अदम अदायगी पन्द्रह दिन के अतिरिक्त कारावास व 7/8 पोक्सो एक्ट में 4 साल कारावास, 10 हजार रुपए जुर्माना, अदम अदायगी दो माह के अतिरिक्त कारावास की सजा सुनाई। कुल जुर्माना 26 हजार 500 रुपए लगाया है। सभी सजाएं साथ-साथ चलेंगी। परिवादी पक्ष की ओर से पैरवी अधिवक्ता सुरेश दादरवाल ने की।