Aapka Rajasthan
Alwar में सफाईकर्मियों की हड़ताल, बोले- PF-ESI की कटौती नहीं हो रही और पैसा भी नहीं बढ़ाया, शहर में सफाई बंद
 

अलवर न्यूज़ डेस्क, अलवर शहर में नगर परिषद के ठेका कर्मियों से लगे करीब 600 सफाईकर्मियों ने गुरुवार की सुबह से ही मैला ढोना बंद कर दिया। सफाईकर्मी मांग कर रहे हैं कि उनका पीएफ और ईएसआई न काटा जाए।

जमादार का पैसा तो बढ़ा दिया गया लेकिन सफाईकर्मियों का पैसा नहीं बढ़ाया गया। इसके अलावा रविवार की मजदूरी काट ली जाती है। इस संबंध में नगर परिषद आयुक्त को दो माह पहले अल्टीमेटम दिया गया था। लेकिन समाधान न होने पर वे हड़ताल पर चले गए।

अखिल भारतीय सफाई मजदूर संघ के जिलाध्यक्ष मोहनलाल ने बताया कि 6 माह से पीएफ नहीं काटा गया है. इससे पहले इस मामले में परिषद के पदाधिकारियों ने कहा था कि डीएलबी की ओर से कोई आदेश नहीं मिला है. अब डीएलबी के आदेश आ गए हैं। इसकी जानकारी कलेक्टर व एडीएम नगर को भी दी गई। भुगतान न करने पर हड़ताल पर जाने की चेतावनी दी गई। बुधवार शाम तक इंतजार किया। अब जब तक मांग नहीं मानी जाती हम हड़ताल पर रहेंगे।

जमाकर्ताओं के वेतन में वृद्धि
ठेकेदार ने जमाकर्ताओं के वेतन में वृद्धि की। छह माह बाद भी पीएफ जमा नहीं हुआ है। ठेकेदार के सफाई बिल पास किए जा रहे हैं। अब मांग है कि सफाईकर्मियों का भी पैसा बढ़ाया जाए। एक महिला सफाईकर्मी ने कहा कि पीएफ बढ़ाया जाए। रविवार की उपस्थिति होनी चाहिए। फिलहाल रविवार की छुट्टी होने पर पैसे काटे जाते हैं। जब तक मांगें पूरी नहीं हो जातीं। तब तक हड़ताल जारी रहेगी।

अब स्थाई कर्मचारी करेंगे सफाई
अब अलवर शहर की सफाई स्थायी सफाईकर्मियों से होगी। अलवर में करीब 600 अस्थायी सफाईकर्मी हैं। स्थायी कर्मचारी बड़ी संख्या में हैं। परिषद के अधिकारी अब सफाई ठेकेदार व कर्मचारियों से बातचीत कर रहे हैं।