Aapka Rajasthan
Alwar में फाइनेंस कंपनी मैनेजर की डेडबॉडी मिली, जयपुर से दोस्त के घर आया था, सुबह कमरे में मृत मिला
 

अलवर न्यूज़ डेस्क, जयपुर की एक फाइनेंस कंपनी में कैश मैनेजर शाहपुरा निवासी 27 वर्षीय दिलशान का शव अलवर शहर के नयाबास के एक मकान के एक कमरे में मिला था। यह मकान मृतक के दोस्त धरम सिंह का है। जो जयपुर नगर निगम में कर्मचारी है। अब पुलिस मामले की जांच कर रही है। मृतक के परिजनों को किसी पर शक नहीं है। लेकिन, मौत को लेकर संशय बना हुआ है।

अरावली विहार थाने के एएसआई ओमप्रकाश ने बताया कि मृतक का बेटा दिलशान रियाज जयपुर जिले के शाहपुरा का रहने वाला है। जो जयपुर में ही एक फाइनेंस कंपनी में कैश मैनेजर के पद पर हैं। नकद संग्रह मुख्य काम था। वह एक दिन पहले अलवर कस्बे में नयाबस मीना धर्मशाला के पास अपने दोस्त धर्म सिंह के घर आया था।

रात में धर्मसिंह और दिलशान ने साथ में कोल्ड ड्रिंक पी और खाना खाकर सो गए। अगले दिन शुक्रवार की सुबह जब धर्म सिंह ने दिलशान को उठाया तो वह नहीं उठा। जिसके बाद उन्हें अस्पताल लाया गया। जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। शुक्रवार सुबह परिजनों के आने के बाद पोस्टमार्टम के बाद शव को सौंप दिया गया। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

मृत विवाहित
मृतक दिलशान का चार साल का बेटा है। उनके खुद तीन भाई हैं। वह कई वर्षों से टाटा फाइनेंस कंपनी में कैश मैनेजर के रूप में कार्यरत थे। उनके जयपुर प्रवास के कारण अलवर के धरम सिंह से उनकी मित्रता हो गई। दिलशान किसी काम से अलवर आया था और एक दोस्त के घर रुका था। यहां उनकी रात में मौत हो गई। मौत का कोई कारण सामने नहीं आया है।